अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कलाम की ‘बेइज्जती’ पर संसद में उबाल

कलाम की ‘बेइज्जती’ पर संसद में उबाल

अमेरिका की कांटिनेंटल एयरलाइन के स्टाफ ने हाल ही में भारतीय कानूनों और प्रोटोकाल का उल्लंघन करते हुए पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की जिस तरह से तलाशी ली, उससे राजनीतिक बवाल मच गया है। इस मामले पर मंगलवार को संसद में काफी शोरशराब हुआ और सभी सदस्यों ने एक स्वर में इस घटना की निंदा की। साथ ही एयरलाइंस का लाइसेंस रद्द करने और तलाशी लेने वाले अमेरिकी को देश से निकाल देने की मांग की। बाद में सरकार की तरफ से एयरलाइंस के संबंधित स्टाफ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी गई।

पूर्व राष्ट्रपति की सुरक्षा जांच नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) के सर्कुलर का पूरी तरह उल्लंान है, जो विशेष महत्वपूर्ण और अति महत्वपूर्ण लोगों को सुरक्षा जांच से छूट देता है। कलाम 21 अप्रैल को आईजीआई हवाईअड्डे से नेवार्क के लिए कांटिनेंटल एयरलाइंस की उड़ान संख्या सीओ़ 083 से यात्रा करने वालेे थे जब प्रोटोकाल की अनदेखी कर उनकी तलाशी ली गई।

कांटिनेंटल एयरलाइन का दावा: कांटिनेंटल एयरलाइंस की तरफ से मंगलवार को जारी एक बयान में कहा गया है कि पूर्व राष्ट्रपति को विमान में सवार होने से पहले सुरक्षा जांच से कोई छूट नहीं है। एयरलाइंस के मुताबिक, अमेरिका के होमलैंड सिक्योरिटी डिपार्टमेंट के ट्रांसपोर्टेशन सिक्योरिटी एडमिनिस्ट्रेशन (टीएसए) सभी यात्रियों की सुरक्षा जांच अनिवार्य की है। ज्यादातर देशों से अमेरिका जाने की सुविधा प्रदान करने वाली सभी विमानन कम्पनियां इस प्रक्रिया पर अमल करती हैं और तलाशी के नियम से किसी भी व्यक्ति को छूट नहीं दी जाती।

इन हस्तियों को मिली है छूट:  भारत के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, पूर्व राष्ट्रपति, पूर्व उपराष्ट्रपति, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस, लोकसभा अध्यक्ष समेत 32 श्रेणियों में आने वाले अतिविशिष्ट लोगों को एयरपोर्ट पर सुरक्षा जांच में छूट मिली हुई है। छूट के दायरे में लोकसभा के स्पीकर, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, लोकसभा व राज्यसभा में विपक्ष के नेता, भारत रत्न से सम्मानित हस्तियां, सुप्रीम कोर्ट के जज, मुख्य निर्वाचन आयुक्त और धर्मगुरु दलाई लामा भी आते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कलाम की ‘बेइज्जती’ पर संसद में उबाल