DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांई उपवन की हालत देख पूर्व मेयर बिफरे

पूर्व मेयर दिनेश चंद गर्ग ने सांई उपवन की हालत देख हैरान रह गए। उन्होंने उपवन के एक ओर बनाए गए अस्थायी कूड़ा घर से सूख रहे पेड़-पौधे की हालत पर दुख जताया और कहा कि इससे शहर का फेफडा समझा जाने वाला सांई उपवन पर संकट मंडरा रहा है। निगम व नगरायुक्त को शीघ्र ही इस दिशा में आवश्यक सकारात्मक कदम उठाने की जरूरत है। इतना ही नहीं अब आगे वहां कूडा़ डालना बंद करने के साथ ही नुकसान की भरपाई के लिए 25-30 हजार पौधे लगाने चाहिए। पूर्व मेयर गर्ग ने सांई उपवन का दौरा करने के  बाद नगरायुक्त अजय शंकर पांडेय को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने कहा कि पूर्व की दिशा में गंदा पानी भरे होने से सैकड़ों पेड़ों का जीवन खतरे में हैं। इसी प्रकार रेलवे लाइन की ओर कूड़ा घर बना देने से हजारों पेड़ सूख गए। गर्ग ने कहा कि पहले उपवन की देख रेख में 35 माली थे लेकिन अब 10 के करीब ही हैं। उन्होंने नगरायुक्त से साईं उपवन को बचाने के लिए कारगर कदम उठाने को कहा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सांई उपवन की हालत देख पूर्व मेयर बिफरे