DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिनाख्त के इंतजार में 21 लाशें

पुलिस के आपसी ताल-मेल व अफसरों की लापरवाही के कारण अपनी पहचान पाने के लिए अज्ञात लाशों का लगातार ग्राफ बढ़ रहा है। हालत यह है कि इस चालू वर्ष में हापुड़ सर्किल में मिली 21 लाशों की शिनाख्त कराने में पुलिस नाकाम है, जबकि तीन वर्षो में देखे तो अभी तक पुलिस सर्किल में पांच दजर्न से ज्यादा लाशों की पहचान नहीं करा सकी है।


पुलिस का लावारिस लाशों के प्रति लापरवाही का रवया अक्सर देखने को मिलता रहता है। पहले तो पुलिस लावारिस लाश को अपने थाना क्षेत्र से हटाने का प्रयास करती है अथवा सीमा विवाद को लेकर उलझा देती है। कई बार दो-दो दिन तक लावारिस लाश सड़ती रहती है। इसके बाद लावारिस लाश की मौत के कारण को लेकर अक्सर ढुलमुल रवैया अपनाती है। सड़क के किनारे लाश मिलते, तो उसे हादसा बता देती है। किसी भिखारी अथवा मैले कपड़े पहने बाजार अथवा स्टेशन मिलने वाली लाशों को बीमारी से हुई मौत बता देते हैं। इसके अलावा जंगल में मिली लाशों के बारे में यह कह देते हैं कि हत्या कहीं और कर लाश की शिनाख्त छिपाने के लिए यहां फेंक देते हैं।
पुलिस के रिकार्ड पर नजर डालें तो इस चालू वर्ष में जनवरी से लेकर 21 जुलाई तक कोतवाली क्षेत्र में 12 थाना बाबूगढ़ क्षेत्र में चार व थाना हापुड़ देहात क्षेत्र में पांच लाशें मिली। जिनमें दो लाशें महिलाओं की रही। इनमें से पुलिस एक भी शिनाख्त कराने में सफल नहीं हो सकी है, जबकि तीन वर्षो में पांच दजर्न से ज्यादा अज्ञात लोगों की लाशें मिली। इनकी शिनाख्त के लिए अभी तक कोई ठोस नीति न बन जाने से ये लाशें अपनी पहचान के लिए फाइलों में कैद होकर रह गई हैं।

योजना बनी पर अमल नहीं
लावारसि लाशों की शिनाख्त कराने के लिए तत्कालीन आईजी वीके गुप्ता समेत कई डीआईजी ने जोन व रेंज में मिलने वाली लावारिस लाशों की शिनाख्त के लिए अलग से सेल बनाने और पड़ोसी राज्य, दिल्ली, हरियाणा से तालमेल बनाने की बैठक की। परंतु संसाधन की कमी व वर्क लोड ज्यादा होने का रोना रोकर पुलिसकर्मी लाशों की शिनाख्त नहीं कर पा रहे हैं।

क्या कहते हैं अफसर-
पुलिस क्षेत्राधिकारी सतीश चंद्र ने बताया कि लावारिस लाशों की शिनाख्त के लिए उन्होंने सर्किल के तीनों थाना प्रभारियों को आपसी तालमेल बनाकर पड़ोसी थाना क्षेत्र में दर्ज गुमशुदगी का पताकर, लाशों के फोटो व हुलिया की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों को पहुंचाने, मृतकों के पास मिले सामान के द्वारा शिनाख्त कराने के निर्देश दिए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिनाख्त के इंतजार में 21 लाशें