DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन लापरवाह लेखपालों पर गिरी गाज, सस्पेंड कार्रवाई

पब्लिक की शिकायतें निपटाने में की जा रही लापरवाही के चलते तीन लेखपालों को सस्पेंड कर दिया गया है। मुख्यमंत्री के विशेष सचिव विजय सिंह ने अचानक मोदीनगर का दौरा किया तो तहसील दिवस में फिर से शिकायतों का अंबार लग गया। विशेष सचिव ने इसे लेकर लेखपालों को निशाने पर ले लिया। गांववालों ने उनके सामने सरकारी मशीनरी की जमकर पोल खोली। सड़क और बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर प्रदर्शन भी किया।
मंगलवार को अचानक विशेष सचिव मोदीनगर में आयोजित तहसील दिवस पहुंचे। भडोला गांव में तैनात लेखपाल प्रेमप्रकाश भटनागर और मुरादाबाद गांव के लेखपाल भगत सिंह के बारे में लोगों ने कहा कि वह सरकारी काम वक्त पर पूरा नहीं करते। अपनी डच्यूटी निभाने में लापरवाही करते हैं। विशेष सचिव ने डीएम को उसी समय दोनों लेखपालों को सस्पेंड करने के निर्देश जारी कर दिए।


विशेष सचिव के सामने मानवतापुरी की तमाम महिलाओं ने ट्रांसफार्मर खराब होने की शिकायत की। इस पर उन्होंने अधिशासी अभियंता को तुरंत ट्रांसफार्मर बदलवाने की हिदायत दी। मेवाड़ी-धौलेड़ी मार्ग न बनने को लेकर गांववालों ने प्रदर्शन किया तो विशेष सचिव ने जल्द ही सड़क बनाने के निर्देश दिए। इसके अलावा विशेष सचिव ने मुरादनगर के गांव असदपुर नांगल का दौरा किया जहां दो कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया। यहां निरीक्षण के दौरान लाभार्थियों को कब्ज न दिलाने व अफसरों को गुमराह करने के आरोप में लेखपाल अली जान को सस्पेंड कर दिया गया। उन्होंने सिंचाई विभाग के अवर अभियंता एके गर्ग के खिलाफ जांच के आदेश दिए। उन पर नहर की सफाई के दौरान मजदूरों के भुगतान में गड़बड़ी का आरोप है। बाद में उन्होंने अंबडेकर ग्राम सिकहड़ा में विकास कार्यो का निरीक्षण भी किया। इस दौरान उन्होंने प्राइमरी स्कूल और इंदिरा आवासों की हालत सही न पाए जाने पर अफसरों की क्लास ली। देर शाम तक डीएम आर रमेश कुमार, सीडीओ जुहैर बिन सगीर साथ विशेष सचिव गांव में जमे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तीन लापरवाह लेखपालों पर गिरी गाज, सस्पेंड कार्रवाई