DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास मंत्री ने औचक निरीक्षण किया

विकास मंत्री राजकुमार चौहान ने कहा है कि राष्ट्रमंडल खेलों से पहले राजधानी की सड़के अंतरराष्ट्रीय स्तर के स्ट्रीट लाइटों से जगमगाएगी। फुटपाथ, सब-वे, सेंट्रल बर्ज आदि कई जगहों पर लाईट लगाई जाएगी। इस कार्य पर 200 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य जनवरी 2010 रखा गया है।


चौहान ने राजधानी के विभिन्न इलाकों में लगाई जा रही स्ट्रीट लाइटों का औचक निरीक्षण किया। औचक निरिक्षण के दौरान कुछ जगहों पर स्ट्रीट लाईट नहीं जलता देख कर चौहान ने अधिकारियों को सख्त हिदायत दी। साथ ही कुछ जगहों पर स्ट्रीट लाईट लागाने में अनावश्यक विलंब के लिए अधिकारियों को फटकारा। इस मौके पर लोक निर्माण विभाग व अन्य संबंधित विभागों के उच्चधिकारी मौजूद थे। चौहान ने बिजली कंपनियों को भी स्ट्रीट लाईट के लिए विशेष बिजली उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सरकार स्ट्रीट लाइट के लिए बिजली कंपनी को प्रति कनेक्शन 73 रुपये की दर से हर वर्ष भुगतान करती है। लिहाजा कंपनियों की जिम्मेदारी है कि वह निर्बाध सुचारू बिजली आपूर्ति करे।


निरीक्षण के बाद चौहान ने कहा कि लोक निर्माण विभाग की लगभग 414 किलोंमीटर लंबी सड़कों पर अंतरराष्ट्रीय स्तर की स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि इस परियोजना का 35 फीसदी काम पूरा हो चुका है और सितंबर तक 80 फीसदी कार्य पूरा हो जाने की उम्मीद है। जबकि जनवरी 2010 तक परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विकास मंत्री ने औचक निरीक्षण किया