अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्रसंध चुनाव पर अड़े छात्रों ने किया हंगामा

केंद्रीय विवि बन जाने के बाद हेमवती नंदन बहुगुणा गढवाल विवि में छात्र संघ चुनाव न कराये जाने के विरोध में मंगलवार को मौजूदा छात्र संघ और पूर्व छात्र संघ पदाधिकारियों ने डीन फैकल्टी सहित बिरला परिसर पर तालाबंदी की और नये शैक्षाणिक सत्र में प्रवेश प्रक्रिया को बाधित कर दिया। छात्रों ने छात्र संघ चुनावों को दुबारा से बहाल न किये जाने तक प्रवेश प्रक्रिया को बाधित रखने और विवि के सभी कामकाज ठप कराने की चेतावनी दी है।


मगंलवार को मौजूदा और पूर्व छात्र संघ के पदाधिकारियों ने डीन फैकल्टी सहित विरला परिसर में तालाबंदी की और प्रवेश प्रक्रिया रोक दी। छात्र संघ पदाधिकारियों का कहना था कि जब तक विवि प्रशासन छात्र संघ चुनाव कराने के संदर्भ में कोई निर्णय नही लेता तब तक  छात्रों का आंदोलन जारी रहेगा। उन्होने चेतावनी दी कि यदि विवि प्रशासन छात्र संघ चुनावों के संदर्भ में निर्णय शीघ्र नही लेता तो छात्रों का आंदोलन उग्र रूप लेगा।

इससे पूर्व चुनावों को लेकर विभिन्न कालेजों से पंहुचे छात्र संघ पदाधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गई जिसमें सभी छात्र संघ पदाधिकारियों ने चुनाव न होने की सूरत में आंदोलन उग्र करने की चेतावनी दी। छात्र संघ चुनावों को लेकर मंगलवार को विवि के तीनों कैंपसों के अलावा बड़ी संख्या में विवि से संबंद्व कालेजों के छात्र नेता भी  बिरला परिसर पहुँचें जहाँ सभी ने एकजुट होकर छात्रसंघ चुनाव के लिये आंदोलन करने का निर्णय लिया।

  बैठक में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष विनोद कण्डारी, उत्तम भंडारी, मोहन सिंह रावत, पूर्व महासचिव प्रताप भण्डारी, वर्तमान छात्र संघ अध्यक्ष अंकित रौथाण, विवि छात्र संघ प्रतिनिधि प्रदीप रौंथाण, छात्र नेता भूपेंद्र भण्डारी, आलोक उनियाल, दीपक विष्ट, शिव शंकर सहित बडी संख्या में वर्तमान और पूर्व छात्र संघ पदाधिकारी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छात्रसंध चुनाव पर अड़े छात्रों ने किया हंगामा