DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साधारण बीमा का जीडीपी में एक प्रतिशत से कम योगदान

साधारण बीमा का जीडीपी में एक प्रतिशत से कम योगदान

भारत में पिछले पांच वर्षों के दौरान 16 प्रतिशत वार्षिक वृद्धि दर्ज करने वाले साधारण बीमा व्यवसाय का सकल घरेलू उत्पाद में एक प्रतिशत से भी कम का योगदान है।

एसोचैम और क्रिसिल की मंगलवार को नई दिल्ली में जारी संयुक्त अध्ययन रिपोर्ट के अनुसार इस क्षेत्र का वैश्विक औसत 2.40 प्रतिशत तुलना में 2008-09 के अंत में यह मात्र 0.60 प्रतिशत था। भारत का इस क्षेत्र में 136वां स्थान है जबकि चीन का 106वां, थाईलैंड का 87वां, रूस का 86 वां, ब्राजील का 85वां, जापान का 61वां और अमेरिका का 9वां स्थान है।

रिपोर्ट के अनुसार इसकी वजह निम्न उपभोक्ता वरीयता, ग्रामीण बाजार पर पकड़ न बनाना और अस्वाभाविक वितरण चैनल है। रिपोर्ट के अनुसार भारत में साधारण बीमा व्यवसाय 30 हजार करोड़ रुपए का है। इसमें 16 प्रतिशत वार्षिक वृद्धि हो रही है। एसोचैम के अध्यक्ष सज्जन जिंदल ने कहा कि साधारण बीमा व्यवसाय के जीडीपी में निम्न योगदान की वजह शहरों के अलावा इसकी पहुंच न होना, बेहद कम कमीशन और जीवन बीमा निगम की तुलना में लोवर टिकट साइज होना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साधारण बीमा का जीडीपी में एक प्रतिशत से कम योगदान