अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माओवादियों के बंद के मद्देनजर बिहार में अलर्ट

माओवादियों के मंगलवार रात से आहूत 24 घंटे के बंद के मद्देनजर बिहार में सभी पुलिस थानों को एलर्ट कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि आवश्यक वस्तुओं और पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतों में वृद्धि के विरोध में माओवादियों ने पांच राज्यों बिहार उत्तर झारखंड उत्तर पश्चिम बंगाल उत्तर उड़ीसा और छत्तीसगढ़ में रात से 24 घंटे के बंद का आहवान किया है।
    

बिहार के अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) नीलमणि ने बताया कि नक्सलियों के बंद के मद्देनजर राज्य के सभी थानों को सतर्क कर दिया गया है। नक्सलियों के बंद के मद्देनजर प्रदेश के पटना, गया, जहानाबाद, नवादा, औरंगाबाद, कैमूर,रोहतास, बांका, मुंगेर, लखीसराय और जमूई जैसे संवेदनशील इलाकों में पुलिस की गश्त बढ़ा दी गयी है। नीलमणि ने बताया कि नक्सल प्रभावित इलाकों में रेलवे ट्रेक पर भी गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए गए है।
    

उन्होंने बताया कि तरेगना में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की तैनाती की गयी है, जहां कल 21वीं सदी के सबसे लंबे सूर्यग्रहण को देखने देश—विदेश से आए शोधकर्ता और वैज्ञानिक इकठ्ठा हुए हैं। विश्व के महान खगोलविद और गणितज्ञ आर्यभट् की कर्मभूमि तरेगना में 21वीं सदी के लगने वाले सबसे लंबे सूर्यग्रहण को देखने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी जाएंगे। बिहार के 38 जिलों में से 31 जिले नक्सल प्रभावित हैं। इसमें से 20 जिले अति संवेदनशील 5 जिले संवेदनशील और 6 जिले आंशिक संवेदनशील हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माओवादियों के बंद के मद्देनजर बिहार में अलर्ट