DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नर्वस क्यों होते हो

वैसे तो हम दोस्तों के साथ बहुत बतियाते हैं, लेकिन जब कहीं इंटरव्यू देने पहुंचते हैं, तो अक्सर बोलती बंद हो जाती है और पूछे गए सवालों के जवाब जानते हुए भी नहीं दे पाते। ऐसा नर्वस होने से होता। ऐसे में जरूरत इस बात की है कि हम खुद पर कंट्रोल रखें, और नर्वस हुए बगैर पूरे आत्मविश्वास के साथ इंटरव्यू दें। इंटरव्यू के दौरान निराशा को दूर रखने के कुछ आसान तरीके ये हो सकते हैं-

- कमरे में जाते ही साक्षात्कारकर्ता से हाथ मिलाना होता है, इसलिए सुनिश्चित करें कि हथेली में पसीना न हो। इसके बजाय आप गुडमॉर्निग भी कह सकते हैं।

- शुरुआत में ही साक्षात्कारकर्ता के आगे प्रश्नों की झड़ी न लगा दें। बहुत तेजी से बोलना भी नर्वस होने की निशानी माना जाता है। जो प्रश्न आपके सामने आएं, उनका तसल्ली से और सोच समझकर सीधा जवाब दें। अपने सवाल इंटरव्यू के दूसरे हिस्से के लिए बचाकर रखें।

- बात करते वक्त साक्षात्कारकर्ता की नजर से नजर मिलाएं। अगर इसमें परेशानी होती है, तो सामने की तरफ ही ध्यान रखें। अगल-बगल झंकना अच्छा लक्षण नहीं माना जाएगा। इसका मतलब ये निकाला जाएगा कि आपको इस जॉब में कोई दिलचस्पी नहीं है।

- अपनी चेयर पर सिरहाना लगाकर सीधे बैठें। आगे झुककर या किनारे पर बैठने वाले को नासमझ, निराश और आत्मविश्वास की कमी वाला व्यक्ति माना जता है। कुर्सी पर बैठकर बेचैनी से पांव न हिलाएं।

- किसी सवाल का जवाब न दे पाने पर नर्वस स्माइल देने की कोशिश न करें। जवाब देने में ईमानदारी बरतें।

- जवाब देने से पहले पॉज लें, चीजों के दोहराव और सफाई पेश करने से बचें। सिर खुजना, हाथ मलना, उंगली नचाना, मुट्ठी भींचना अच्छी हरकतें नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नर्वस क्यों होते हो