अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं चाहिए यूपी का पानी

 बिहार को यूपी के पानी की फिलहाल जरूरत नहीं। यूपी सरकार के साथ-साथ केन्द्र की लगातार चिरौरी करते बिहार के पास अपने खेतों के लिए पर्याप्त पानी है। जबरदस्त बारिश के कारण सोन नदी में पानी की मात्रा इतनी बढ़ गई है कि सूखते खेतों के लिए राज्य को अब यूपी और एमपी के सहयोग की जरूरत नहीं।

सोन नदी में इस समय 48 हजार क्यूसेक पानी है जो खेतों की सिंचाई के लिए काफी है। बिहार को इस समय हर रोज सात हजार क्यूसेक पानी चाहिए। लिहाजा यह कोटा कम से कम एक सप्ताह के लिए पर्याप्त है। 

बिहार ने यूपी सरकार से अनुरोध किया है कि वह राज्य कोटे को इस समय बचाकर रखे और जब जरूरत होगी तब उसकी आपूर्ति शुरू करे। विभाग के एक वरीय अधिकारी के अनुसार सोन नदी में इस समय इतना पानी है जिससे खेतों को सिंचाई के लिए पर्याप्त आपूर्ति की जा सके।

इस समय यूपी से पानी दिए जाने की कोई उपयोगिता नहीं रह जाएगी। यूपी से पानी मिला तो वह लगभग बेकार ही होगा जबकि बिहार के कोटे में उसे जोड़ लिया जाएगा। ऐसे में अगर इस समय यूपी पानी की आपूर्ति बंद रखे तो भविष्य में जरूरत के समय उसका उपयोग किया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहीं चाहिए यूपी का पानी