अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनुसूचित जातियों पर हो रहे जुल्म के खिलाफ राज्यव्यापी आंदोलन

सोमवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की बिहार इकाई (दलित प्रकोष्ठ) के अध्यक्ष एवं पूर्व राज्य मंत्री सुरेश पासवान ने राज्य में अनुसूचित जातियों पर हो रहे अत्याचार एवं शोषण के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इसके लिए पार्टी राज्य भर में चरणबद्ध आंदोलन चलाएगी।


प्रदेश कार्यालय में राजद दलित प्रकोष्ठ के प्रदेश पदाधिकारियों एवं जिलाध्यक्षों की बैठक को संबोधित करते हुए पासवान ने कहा कि नीतीश सरकार के शासन काल में पूरे बिहार में आपराधिक घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है और राज्य सरकार मूकदर्शक बनकर देख रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार दलित महादलित का बंटवारा कर जिस तरह समाजिक विद्वेष फैला रही है। वह काफी निंदनीय है। उन्होंने कहा कि सरकार को विकास से कोई मतलब नहीं है और वह महज झूठी घोषणाएं कर रही है।
 राजद नेता ने कहा कि अनुसूचित जाति के विकास के लिए केन्द्र सरकार की ओर से जो संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उनका भी राज्य सरकार दुरुपयोग कर रही है। पासवान और रविदास को महादलित से अलग रखे जाने के खिलाफ 29 जुलाई को सभी जिला मुख्यालयों पर धरना दिया जाएगा तथा नीतीश सरकार के साढ़े तीन साल के कार्यकाल में अनुसूचित जातियों पर हुए आपराधिक घटनाओं पर श्वेत पत्र भी जारी किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अनुसूचित जातियों पर हो रहे जुल्म के खिलाफ राज्यव्यापी आंदोलन