DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करन जौहर के मामले में आदेश सुरक्षित

इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ में "कभी खुशी कभी गम" फिल्म के निर्माता निर्देशक करन जौहर को तलब किए जाने के मामले में जौहर के वकील ने अर्जी देकर पीठ को बताया कि स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के कारण उनका मुवक्किल पीठ के समक्ष उपस्थित नहीं हो सकता है। पीठ ने अपना आदेश सुरक्षित कर लिया है।
 
न्यायमूर्ति धर्मवीर शर्मा की अदालत ने गत 16 जुलाई को आदेश दिया था कि करन जौहर मूल फिल्म के साथ पीठ में उपस्थित हों।
 
ज्ञातव्य है कि वर्ष 2002 में कभी खुशी कभी गम फिल्म देखने के लिए परिवादी एक स्थानीय सिनेमाहाल गया था। परिवादी ने कहा कि फिल्म में दिखाया गया राष्ट्रीय गीत नियम कायदों के विपरीत था तथा कोई भी व्यक्ति सम्मान में खड़ा नहीं हुआ। केवल परिवादी व उसके दोस्त ही हाल में खड़े हुए।
 
इस पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने संज्ञान लेते हुए करन जौहर को तलब किया था। इसके खिलाफ करन जौहर ने उच्च न्यायालय में याचिका प्रस्तुत की थी। उच्च न्यायालय ने 20 जुलाई को करन जौहर को मूल फिल्म के साथ तलब किया था। अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद अपना आदेश सुरक्षित कर लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:करन जौहर के मामले में आदेश सुरक्षित