DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेशों में तेल परिसंपत्तियों पर हो जोर : सीआईआई

विदेशों में तेल परिसंपत्तियों पर हो जोर : सीआईआई

भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने सुझाव दिया है कि भारत को विदेशों में लंबी अवधि के कच्चे तेल के ठेकों और तेल परिसंपत्तियों को हासिल करने की कोशिश करनी चाहिए।

सीआईआई का मानना है कि अभी तेल की कीमत 70 डॉलर प्रति बैरल के आसपास है और देश के सामने अंतरराष्ट्रीय ठेके हासिल करने के मौके मौजूद हैं। सीआईआई के मुताबिक भविष्य की ऊर्जा सुरक्षा के लिए यह जरूरी है।

सीआईआई ने एक बयान में कहा, ‘‘ऊर्जा की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए भारत के लिए यह जरूरी है कि वह आंतरिक कोशिशों और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अधिग्रहणों के बल पर अबाध ऊर्जा आपूर्ति सुनिश्चित करे।’’

सीआईआई के अनुमान के मुताबिक देश में वर्ष 2030 तक तेल की मांग 32.8 करोड़ टन हो जाएगाी और वर्ष 2020 तक केवल 25 फीसदी मांग को आतंरिक संसाधनों से पूरा किया जा सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विदेशों में तेल परिसंपत्तियों पर हो जोर : सीआईआई