DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को भी बढा़वा देने की तैयारी


उत्तर प्रदेश के विभाजन के बाद प्रदेश के अधिकांश प्राकृतिक पर्यटन स्थलों के उत्तराखण्ड अंचल में चले जाने के बाद प्रदेश सरकार अब धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने की तैयारी में है और इसके लिए अयोध्या, काशी, मथुरा और प्रयागराज इलाहाबाद सहित अन्य तीर्थस्थलों के विकास एवं प्रचार पर खासा जोर दे रही है।

प्रदेश की राजधानी में अरबों रूपये के व्यय से अंबेडकर पार्क में बसपा संस्थापक कांशीराम के साथ स्वयं अपनी एवं अन्य दलित नायकों की मूर्तियां लगवाने के लिए बसपा सरकार की आलोचनाओं के बीच प्रदेश के पर्यटन राज्य मंत्री विनोद कुमार सिंह ने बताया कि बसपा सरकार राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अयोध्या ,काशी एवं मथुरा सहित धार्मिक स्थलों के विकास पर जोर दे रही है।

सिंह ने बताया कि अयोध्या, काशी, मथुरा एवं अन्य तीर्थस्थलों के विकास के लिए लोकसभा चुनावों से बहुत पहले ही करोड़ों रूपये का विशेष आर्थिक पैकेज जारी कर चुकी है।  प्रदेश सरकार ने तेरहवें वित्त आयोग से भी इन क्षेत्रों के विकास के लिए विशेष पैकेज का प्रावधान करने पर बल दिया है।

उन्होंने बताया कि अभी हाल ही में 13वें वित्त आयोग ने अध्यक्ष डा0 विजय केलकर के नेतत्व में प्रदेश के दौरे पर आई आयोग की छह सदस्यीय टीम के समक्ष प्रस्तुत प्रतिवेदन में मुख्यमंत्री मायावती ने अयोध्या , काशी, मथुरा के साथ प्रयागराज इलाहाबाद के समुचित विकास के लिए विशेष पैकेज मांगा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी में धार्मिक पर्यटन को भी बढा़वा देने की तैयारी