अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंग्लैंड ने लॉर्डस पर शिकंजा कसा

इंग्लैंड ने लॉर्डस पर शिकंजा कसा

इंग्लैंड ने दूसरे एशेज टेस्ट के तीसरे दिन चाय तक दूसरी पारी में दो विकेट पर 130 रन बना लिए। ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन नहीं देने के बाद इंग्लैंड ने कुल 340 रन की बढ़त ले ली। रवि बोपारा 19 और केविन पीटरसन 28 रन बनाकर खेल रहे हैं। दोनों ने 56 रन की साझेदारी कर ली है। दोनों बल्लेबाज हालांकि सहज नजर नहीं आए।

बोपारा को नौ रन के स्कोर पर जीवनदान मिला जब पीटर सिडल की गेंद पर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग ने दूसरी स्लिप में उनका कैच छोड़ा। इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन नहीं देने का फैसला किया। इंग्लैंड के पहली पारी के 425 रन के जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 215 रन पर आउट हो गयी। फॉलोऑन से बचने के लिए उसे 226 रन चाहिए थे। स्ट्रॉस ने पिच से मिल रही मदद का पूरा फायदा उठाया। पहली पारी में पहले विकेट के लिए 196 रन जोड़ने वाले स्ट्रॉस और कुक ने दूसरी पारी में भी 50 रन की साझेदारी सिर्फ दस ओवर में कर ली थी।

खराब फार्म से जूझ रहे मिचेल जॉनसन ने लंच से पहले तीन ओवर में 17 रन दे डाले। इस मैच में उनकी गेंदों पर 27 चौके लग चुके हैं। इससे पहले नाथन हौरित्ज और पीटर सिडल ने साजेदारी को 44 रन तक बढ़ाया और लग रहा था कि वे फॉलोऑन बचा लेंगे।
उन्होंने थर्डमैन इलाके में लगातार चौके लगाए। हौरित्ज को 11 के स्कोर पर जीवनदान मिला जब स्टुअर्ट ब्रॉड की धीमी गेंद पर कुक ने शॉर्टलेग पर उनका कैच छोड़ा। उस समय वह 24 के स्कोर पर ग्राहम ओनियंस की गेंद पर तीसरी स्लिप में पॉल कोलिंगवुड को कैच दे बैठे। सिडल आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज थे जो 35 के स्कोर पर विकेट गंवा बैठे। ओनियंस की गेंद पर पहली स्लिप में स्ट्रॉस ने उनका कैच लपका। इंग्लैंड ने 1934 के बाद लार्डस पर ऑस्ट्रेलिया को नहीं हराया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंग्लैंड ने लॉर्डस पर शिकंजा कसा