अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मप्र में होगा सूर्यग्रहण का सबसे बेहतरीन नजारा

मप्र में होगा सूर्यग्रहण का सबसे बेहतरीन नजारा

इस सदी के सर्वाधिक दुर्लभ और खगोलीय दृष्टि से महत्वपूर्ण सूर्यग्रहण का सबसे बेहतर नजारा मध्यप्रदेश में दिखाई देगा और यही वजह है कि 22 जुलाई को यहां देश-विदेश के खगोल विज्ञानियों का जमावड़ा होगा।

साइंस सेंटर ग्वालियर और राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचार परिषद नई दिल्ली के सहयोग से 21, 22 और 23 जुलाई को भोपाल में राष्ट्रीय सूर्य महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इसकी मेजबानी ओरियन्टल ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स रायसेन को सौंपी गई है।

इसके अतिरिक्त इस वर्ष गैलीलियो द्वारा दूरबीन से पहली बार आकाश दर्शन का 400वां साल पूरा होने जा रहा है। यूनेस्को की पहल पर दुनिया भर के लोग इसे अंतरराष्ट्रीय खगोल वर्ष के रूप में मनाने जा रहे हैं।

राष्ट्रीय सूर्य महोत्सव में देश के 35 राज्यों से चयनित 700 बच्चे, 300 शिक्षक, वैज्ञानिक और भोपाल के हजारों बच्चे शामिल होंगे। इसमें यूजीसी के प्रोफेसर तथा सलाहकार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय प्रोफेसर यशपाल सहित अनुज सिन्हा, डॉ उज्जवला तिर्की, डॉ असित चक्रवर्ती और डॉ वीरेंद्र त्यागी सहित देश एवं प्रदेश के करीब तीस विशेषज्ञ भाग लेंगे और व्याख्यान देंगे।

सूर्य महोत्सव के तहत सभी गतिविधियां ओरियंटल समूह के परिसर में होगी तथा पूर्ण सूर्यग्रहण के अवलोकन स्थल के रूप में भोपाल से करीब 40 किलोमीटर दूर भीमबेटका विनेका को चुना गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मप्र में होगा सूर्यग्रहण का सबसे बेहतरीन नजारा