अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफगानिस्तान में सैनिक बनाए रखने होंगेः ब्रिटिश जनरल

अफगानिस्तान में सैनिक बनाए रखने होंगेः ब्रिटिश जनरल

ब्रिटिश सेना प्रमुख जनरल रिचर्ड डन्नाट ने सरकार को सलाह दी है कि उसे अफगानिस्तान में सेना के स्तर को बनाए रखना चाहिए तथा अफगान सेना के पूरी तरह से उत्तरदायित्व संभालने तक और सैनिकों को तैनात करना चाहिए।

डन्नाट ने अफगानिस्तान में तालिबान आतंकवादियों से लोहा लेने के दौरान सैनिकों को सुरक्षित बनाने के लिए सरकार से और अधिक सैन्य साजो सामान विशेषकर हेलीकाप्टर देने का आह्वान किया। ब्रिटेन ने अफगानिस्तान में आगामी 20 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनावों को देखते हुए अपने सैनिकों की संख्या 8300 से बढ़ाकर करीब नौ हजार कर दी है।

डन्नाट ने बीबीसी रेडियो अफगानिस्तान से कहा कि यह हमारे लिए कम समय के लिए जरूरी है कि हमारा स्तर करीब नौ हजार बना रहे। सैनिकों की संख्या नौ हजार से कम करके वापस 8300 संख्या लाना सैन्य दृष्टि से ठीक नहीं है। मैं इस विषय में पूरी तरह से स्पष्ट हूं।

ज्ञातव्य है कि वर्ष 2001 में ब्रिटिश सेना द्वारा अफगानिस्तान में शुरू की गई कार्रवाई में अब तक 185 सैनिकों की मौत हो गई है। सैनिकों के मरने की इस बढ़ती संख्या से ब्रिटेन में लोग आश्चर्यचकित हैं तथा वे सरकार पर कई प्रश्न उठा रहे हैं जैसे कि क्या जमीनी स्तर पर कार्रवाई के लिए ब्रिटेन के पास पर्याप्त सैनिक हैं? क्या सैनिकों के पास आतंकवादियों से लड़ने के लिए उचित साजो सामान है या नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफगानिस्तान में सैनिक बनाए रखने होंगेः ब्रिटिश जनरल