DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हजरतगंज व लखीमपुर पुलिस सवालों के घेरे में

पुलिस मुठभेड़ की एक और कहानी में कई छेद हैं। इस बार हजरतगंज व लखीमपुर पुलिस सवालों के घेरे में है। हिस्ट्रीशीटर गौरव गुप्ता को शुक्रवार तड़के मुठभेड़ में गिराने का दावा कर रही पुलिस की मानें तो उसकी बाइक के पीछे तीन जीपें लगी थीं। इनमें इंस्पेक्टर हजरतगंज व क्यूआरटी 26 की जीप के अलावा लखीमपुर पुलिस की एक निजी जीप शामिल है। लालबाग चौकी प्रभारी एए अंसारी व सिपाही अवधेश सिंह मोटरसाइकिल से उसे पकड़ने का प्रयास कर रहे थे।

सवाल यह उठता है कि आखिर चार बजे सुबह जब सन्नाटा पसरा था तो हजरतगंज की चौड़ी सड़कों पर दोनों की घेरेबंदी क्यों नहीं हो सकी? नेशनल कालेज के सामने गौरव के गिरने के बावजूद बाइक अनयंत्रित नहीं हुई। दूसरा बदमाश सीधे भाग निकला। वह सहारागंज की ओर मुड़ा या फिर सीधे सिकंदरबाग चौराहे की तरफ गया। पुलिस के पास इसका जवाब भी नहीं था। मुठभेड़ के दौरान ही घेरेबंदी के आदेश दिए जाने का दावा करने वाली पुलिस देर रात तक यह नहीं पता लगा सकी थी कि आखिर बाइक से भागा बदमाश कहां गया? इसके अलावा जब पैर व पीठ पर गोली लगने से घायल गौरव सड़क पर गिरने के बाद पेड़ की आड़ में गया तो इस दौरान उसके शरीर से बह रहा खून सड़क पर क्यों नहीं बिखरा? पुलिस ने जिस पेड़ के पास मुठभेड़ दिखाई है वहां केवल एक जगह सड़क पर खून जमा था। जबकि उसकी पिस्तौल व दो खोखे पेड़ के दो कदम आगे पड़े थे। यानी गौरव पेड़ की आड़ से गोली चलाने के बाद आगे आ गया था।

पुलिस ने सुबह के एकांत में उसे घेरने की कोशिश क्यों नहीं की। गौरव की नाइन एमएम पिस्तौल में दो गोलियाँ बची थीं। पुलिस के मुताबिक उसने तमंचे से भी फायर किया। इस कारवाई के दौरान पुलिस की ओर से 15 राउंड फायरिंग की गई। एक इंस्पेक्टर का कहना था कि पुलिस की छापेमारी के दौरान वह किसी होटल से निकलकर भाग रहा था। सुबह 5:10 पर जब एसएसपी प्रेम प्रकाश मौके पर पहुंचे तो दरोगा एए अंसारी ने उन्हें घटनाक्रम की जनकारी दी। तब दरोगा व सिपाही दोनों ने गोली चलाने की बात कही पर बाद में सिपाही इससे मुकर गया। वहां मौजूद पुलिस कर्मी सवालों का जवाब देने से कतरा रहे थे। वहीं लखीमपुर के एक दरोगा के मुताबिक पुलिस ने दो दिन पहले षि के साथ ही गौरव को भी पकड़ लिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हजरतगंज व लखीमपुर पुलिस सवालों के घेरे में