अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्यार्थियों के लिए व्यावसायिक मार्गदर्शन

बच्चों को स्कूली शिक्षा के बाद उनके लिए क्या बेहतर होगा, इसे देखते हुए व्यावसायिक मार्गदर्शन अभियान चलाया ज रहा है। शुक्रवार को बादशाहपुर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में इसका समापन किया गया। रोजगार अधिकारी सुमन गहलोत ने विद्यार्थियों को बताया कि जनवरी व जुलाई में व्यावसायिक मार्गदर्शन अभियान चलाया जाता है। इसके तहत 11वीं व 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को रोजगारोन्मुखी कोर्सो के बारे में जानकारी दी जाती है। यह अभियान विशेष तौर पर उन ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों के लिए चलाया जाता है।
विभिन्न कोर्सो से संबंधित लक्ष्य निर्धारित करें ताकि आगे उन्हें किसी भी असमंजस का सामना ना करना पड़े। पुराने परम्परागत कोर्सो को छोड़कर रोजगारोन्मुखी कोर्सो को अपनाए ताकि उनका तथा उनके परिवार का भविष्य उज्जवल हो सके। विभिन्न शिक्षण संस्थान बहुत से रोजगारोन्मुखी कोर्स चल रहे है। जिनमें प्रवेश लेकर विद्यार्थी अपना भविष्य संवार सकते हैं ।


रोजगार अधिकारी विद्यार्थियों को बताया कि धारा प्रवाह से अंग्रेजी भाषा बोलने वाले किसी भी युवक को कॉल सैन्टर में अच्छे वेतन के साथ आसानी से रोजगार मिल जाता है। गुड़गांव में उद्योगों और कॉल सैन्टरों की बहुत अधिक संख्या है जिससे यहां के विद्यार्थियों के लिए रोजगार के काफी अवसर खुले हुए हैं लेकिन ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों को जानकारी के अभाव के कारण उद्योगों और कॉल सैन्टरों में उपलब्ध रोजगार के अवसरों का पता नहीं चल पाता है।  समय की मांग को देखते हुए वे इंगलिश स्पीकिंग, पर्सनल्टी डेवलेपमैन्ट और कम्प्यूटर अवश्य सीखें ताकि वे किसी भी उद्योग या कॉल सैन्टर आदि में आसानी से रोजगार प्राप्त कर सके।


गुड़गांव औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को बताया कि वे औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में चलाए जा रहे 19 प्रकार के कोर्सो में प्रवेश लेकर तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आईटीआई में 10वीं या 12वीं पास विद्यार्थी प्रवेश ले सकता है। 90 प्रतिशत सीटें हरियाणा के विद्यार्थियों के लिए आरक्षित रखी गई हैं जिनमें से 30 प्रतिशत सीटें केवल लड़कियों के लिए आरक्षित हैं। उन्होंने बताया कि आईटीआई में एक व दो साल के अलग-अलग कोर्स होते हैं जिनके पूर्ण होने उपरान्त कैम्पस इन्टरव्यू में लगभग सभी बच्चों को रोजगार प्राप्त हो जाता है। उन्होंने बताया कि आईटीआई से उत्तीर्ण विद्यार्थी को पोलीटैक्नीक में सीधे द्वितीय वर्ष में प्रवेश मिल जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विद्यार्थियों के लिए व्यावसायिक मार्गदर्शन