DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरबीआई और स्थिर दर सुनिश्चित करेगा: चक्रवर्ती

आरबीआई और स्थिर दर सुनिश्चित करेगा: चक्रवर्ती

मौद्रिक नीति की तिमाही समीक्षा से पहले रिजर्व बैंक ने कहा कि उसका प्रयास ब्याद दरों में नरम और स्थिरता बनाए रखना है ताकि आम आदमी के हितों की रक्षा और बैंकों के पास ऋण के लिए पर्याप्त धनराशि सुनिश्चित की जा सके।

रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर केसी चक्रवर्ती ने कहा कि आरबीआई की कोशिश नरम और स्थिर ब्याज दर सुनिश्चित करना है और प्रणाली में पर्याप्त नकदी सुनिश्चित करना है। हम ब्याज दर को नरम रखने की कोशिश कर रहे हैं।

चक्रवर्ती ने यहां आयोजित स्काच बीएफएसआई सम्मेलन में कहा कि उद्योगों में उच्च प्रतिस्पर्धा के मद्देनजर बैंकों और विशेष तौर पर निजी क्षेत्र के बैंकों को आने वाले दिनों में ब्याज दरें घटानी होगी।

चक्रवर्ती ने कहा कि प्रत्येक बैंक की स्थिति और मुद्रास्फीति का स्तर इस बात का फैसला करेगा कि बैंक ब्याज दरों में कटौती करेंगे या नहीं। यदि प्रणाली में फंडों की लागत अधिक है तो बैंक अपनी ब्याज दरों में बढ़ोतरी करना चाहेंगे।

चक्रवर्ती ने कहा कि यदि बैंकों के फंडों की लागत बढ़ती है तो वे ब्याज दरें बढ़ाएंगे, अगर ऋण की मांग तिगुनी होती है और वे धन नहीं जुटा पाते उन्हें जमा के लिए उंची दर देनी होगी।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरबीआई और स्थिर दर सुनिश्चित करेगा: चक्रवर्ती