अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीपीएच के साथ चार और ट्रांसफार्मर फुंके सप्लाई चौपट

अभी डीपीएच के फुंके ट्रांसफार्मर का विकल्प नहीं मिल पाया था कि चार और ट्रांसफार्मर फुंकने से बिजली की किल्लत चरम पर पहुंच गई है। पावर अधिकारियों को इस समस्या का हल नहीं मिल रहा है।


डीजल पावर हाउस (डीपीएच) में लगे साढ़े बारह एमवीए का ट्रांसफार्मर फुंक जाने से जहां बिजली सप्लाई को झटका लगा है। वहीं चार और ट्रांसफार्मर फुंकने से स्थिति बेकाबू हो गई है। इस उच्च क्षमता के ट्रांसफार्मर के विकल्प के रूप में संभल से लाए जाने वाला ट्रांसफार्मर न जाने कब यहां पहुंचेगा। इसके बगैर शहर को बिजली दे पाना पावर अधिकारियों के लिए पहले ही मुश्किल था। वहीं विभिन्न इलाकों में लगे चार ट्रांसफार्मर फुंकने से परेशानी बढ़ गई है। डीपीएच से थोड़ी दूरी पर बसंत सिनेमा के पास लगा ट्रांसफार्मर एक सप्ताह में तीन बार फुंक चुका है। जिससे पूरे इलाके में बिजली के लिए मारामारी मची हुई है। पावर अधिकारियों का कहना है कि इस ट्रांसफार्मर से आसपास के कई इलाकों को सप्लाई दी जाती है। डीपीएच से जुड़ा यह ट्रांसफार्मर लोड ही नहीं ले पा रहा और बार-बार फुंक जा रहा है।

यहां पर एक  हजार केवीए का ट्रांसफार्मर लगा हुआ था। जिसको दो बार बदला गया। तीसरी बार यहां पर साढ़े छह सौ केवीए का ट्रांसफार्मर लगाया गया है। इसको फुंकने से बचाने के लिए कुछ इलाकों को इससे अलग कर दिया गया है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक नुसरतपुरा, पुराना टाउन हॉल और जटवाड़ा में लगे ट्रांसफार्मरों ने डिमांड के सामने दम तोड़ दिया। जिससे सप्लाई की हालत की हालत काफी खराब हो गई है। एसडीओ एस.के.बघेल ने बताया कि उच्च क्षमता का ट्रांसफार्मर फुंकने की वजह से डिमांड को काबू करने में परेशानी आ रही है। वहीं कुछ इलाकों के ट्रांसफार्मरों के फुंकने से परेशानी बढ़ गई है। हालांकि रोटेश्नल बेसिस पर कटौती करके सप्लाई दी जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीपीएच के साथ चार और ट्रांसफार्मर फुंके सप्लाई चौपट