DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहुगुणा प्रकरण दलित वोटों की राजनीति : भाजपा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा की कथित टिप्पणी के बाद राज्य में हो रहे विरोध को कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की दलित वोटों की बंदर बांट के लिए नूराकुश्ती करार दिया है।

भाजपा उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी ने मायावती के खिलाफ कथित अभद्र टिप्पणी के लिए बहुगुणा को न्यायिक हिरासत में भेजे जाने और उनका घर जलाए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि दरअसल दलित वोटों की बंदर बांट के लिए कांग्रेस और बसपा की राजनीतिक नूराकुश्ती हो रही है।

नकवी ने कहा कि कांग्रेस और बसपा की क्रमशः केंन्द्र और उत्तर प्रदेश में सरकार है। हालात ये हैं कि उत्तर प्रदेश में बंद से बदतर हो रही स्थिति, खासतौर से सूखा, महंगाई, भ्रष्टाचार, अराजकता और पानी बिजली की समस्याओं से लोगों का ध्यान हटाने के लिए दोनों दल राज्य में ये हालात पैदा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश में कानून एवं व्यवस्था के जो हालात हैं, उसके लिए केन्द्र और राज्य सरकारें बराबर की दोषी हैं। इस तरफ से लोगों का ध्यान किस तरह से हटाया जा सके और वोटों की सौदागरी के लिए कौन कितना बड़ा है, दोनों में इसकी होड़ मची हुई है। उन्होंने कहा कि मायावती-रीता बहुगुणा घटनाक्रम को दलित वोटों की बंदर बांट के लिए राजनीतिक नूराकुश्ती के अलावा कुछ नहीं कहा जा सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बहुगुणा प्रकरण दलित वोटों की राजनीति : भाजपा