अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती कर रही हैं बदले की कार्रवाई : कांग्रेस

कांग्रेस ने पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई की अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के लखनऊ स्थित आवास पर आगजनी और तोड़फोड़ की घटना की निंदा करते हुए आज कहा है कि राज्य की मायावती सरकार को उन्माद और बदले की कार्रवाई नहीं करनी चाहिए।

कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद ने इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री और राज्य सरकार के इशारे पर किसी का घर जलाना उचित नहीं है। राज्य सरकार को उन्माद और बदले की कार्रवाई नहीं करनी चाहिए। उन्होंने मुख्यमंत्री मायावती के बारे में जोशी की टिप्पणी के बारे में कहा कि यह उचित और समयानुकूल नहीं है।


उन्होंने कहा कि इसे लेकर सरकार को अगर कोई कानूनी कार्रवाई करनी है तो पार्टी इसके लिए तैयार है, लेकिन पुलिस संरक्षण और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) नेताओं की उपस्थिति में असामाजिक तत्वों द्वारा किसी का घर जलाना अनुचित और निंदनीय है। उन्होंने जोशी के खिलाफ अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण कानून एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने को भी गलत बताया।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि जोशी ने अनुसूचित जाति-जनजाति के खिलाफ कुछ नहीं कहा है न ही किसी जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया है। उन्होंने व्यक्गित नाम लेकर टिप्पणी की थी मगर जोशी ने भी पूरे घटनाक्रम पर खेद जता दिया है। उल्लेखनीय है कि मायावती के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी के आरोप में जोशी को बुधवार देर रात गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया।

इस बीच बसपा समर्थकों ने लखनऊ के हुसैनगंज क्षेत्र स्थित उनकेमकान में आग लगा दी, जिसमें चार वाहन जल गए। जोशी को गुरुवार को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। जोशी पर आरोप है कि उन्होंने बुधवार को मुरादाबाद के मझोला में एक सभा में बलात्कार पीड़ितों को दी जा रही मुआवजा के सिलसिले में मायावती के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी की थी। इस टिप्पणी के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ  मझोला थाने में एससी-एसटी एक्ट समेत कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। लखनऊ की घटना के सिलसिले में मामला दर्ज करके चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती कर रही हैं बदले की कार्रवाई : कांग्रेस