DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक को करनी ही होगी कार्रवाई: मेनन

पाक को करनी ही होगी कार्रवाई: मेनन

भारत-पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों के बीच गुरुवार को होने वाली द्विपक्षीय वार्ता में भारत पाकिस्तान द्वारा मुंबई हमले के आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई तथा उसके देश में स्थित आतंकी शिविरों को नष्ट करने की मांग पर डटा रहेगा।

भारतीय विदेश सचिव शिव शंकर मेनन ने बताया कि भारत की जनता मुंबई हमलों के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होते देखना चाहती है। पाकिस्तानी पक्ष द्वारा भारतीय वार्ताकारों द्वारा अड़ियल रुख अपनाने के आरोपों को खारिज करते हुए मेनन ने कहा कि हम पाकिस्तान के साथ लंबे समय से बातचीत करते आ रहे हैं। यहां तक कि मुम्बई हमलों के बाद भी हम बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढा रहे हैं, ऐसे में पाकिस्तान द्वारा भारत पर अड़ियल रुख अपनाने के आरोप सरासर गलत है।

पाकिस्तान द्वारा भारत को नए दस्तावेज सौंपने की पुष्टि करते हुए उन्होंने कहा कि इन दस्तावेज में पांच दोषियों की गिरफ्तारी के बारे में सूचना है, जबकि कुछ अन्य आरोपियों के बारे में पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियां जांच कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि दस्तावेज में कुछ संगठनों के नाम भी है जिनका वह खुलासा नहीं कर सकते हैं।

मेनन ने बताया कि पाकिस्तानी विदेश सचिव सलमान बशीर के साथ उनकी बैठक में जमात-उद-दावा के मुखिया हाफिज मुहम्मद सईद पर भी चर्चा हुई। हालांकि उन्होंने बैठक के नतीजों पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। मेनन ने कहा कि अब जिम्मेदारी दोनों राष्ट्राध्यक्षों पर है कि वे भारत-पाक के बीच तनावपूर्ण रिश्तों को किस तरह सामान्य बना सकते हैं।

भारतीय विदेश सचिव ने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सम्मेलन के दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, मलेशियाई प्रधानमंत्री, वियतनाम के राष्ट्रपति तथा फिलस्तीन के राष्ट्राध्यक्ष महमूद अब्बास से भी मुलाकात की। उन्होंने बताया कि हसीना के साथ बातचीत में भारत, बांग्लादेश जल संबंधी मामलों सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई।

मेनन ने बताया कि 29-30 जुलाई को एक बांग्लादेशी प्रतिनिधिमण्डल मणिपुर में बनने वाले तिपाईमुख बांध पारियोजना का निरीक्षण करेगा और बांध की जल संग्रहण क्षमता का स्वयं मूल्यांकन करेगा। उन्होंने बताया कि मलेशियाई प्रधानमंत्री के साथ डॉ. सिंह की मुलाकात भारत की ‘पूर्व की ओर देखो’ नीति का ही हिस्सा है, जबकि महमूद अब्बास के साथ बैठक में उन्होंने फिलस्तीन तथा पश्चिम एशिया की मौजूदा परिस्थितियों पर चर्चा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक को करनी ही होगी कार्रवाई: मेनन