DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा गिरफ्तार, घर फूंका

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा गिरफ्तार, घर फूंका

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के लखनऊ स्थित आवास पर बुधवार को आधी रात कुछ अज्ञात लोगों ने आग लगा दी। घर के परिसर में खड़ीं कुछ गाड़ियों में भी आग लगा दी गईं। मौके पर मौजूद लोगों व पुलिस के मुताबिक कुछ नकाबपोश युवकों ने इस वारदात को अंजम दिया। इस वाकए को जोशी की ओर से बुधवार को दिन में मुरादाबाद में दिए गए विवादित बयान से जोड़ कर देखा जा रहा है। उधर गाजियाबाद से मिली खबर के मुताबिक जोशी को पुलिस ने रोक लिया है।

वहीं मुरादाबाद में उनके इस बयान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई जिसके बाद गाजियाबाद पुलिस ने विजयनगर बाईपास इलाके बुधवार देर रात उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

जोशी के लखनऊ में सरोजनी नायडू मार्ग स्थित आवास पर नकाबपोशों ने पहले घर में तोड़फोड़ की और फिर आग लगा दी। परिसर में खड़ीं गाड़िया भी जलकर राख हो गईं। देर रात तक दमकल की गाड़िया आग पर काबू पाने के प्रयास में जुटी थीं। हमलावरों के बारे में कोई जनकारी नहीं हो सकी हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हमलावर युवक एम्बेस्डर कार से आए थे। उनकी संख्या करीब दो दजर्न थी। वह लाठी-डण्डों से लैस थे। घर के भीतर घुसते ही इन लोगों ने तोड़फोड़ शुरू कर दी। वहा एक-दो लोग ही मौजूद थे। जो भाग खड़े हुए। बताया गया है कि आगजनी के दौरान दो-तीन धमाके भी हुए।

इससे पहले मुरादाबाद की एक सभा में की गई टिप्पणी पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी ने सफाई देते हुए कहा है कि राज्य सरकार उनके बयान को तोड़ मरोड़ कर मुद्दा बनाना चाहती है। जोशी ने कहा कि उत्पीड़न का शिकार हुई महिलाओं को पैसा देकर संतुष्ट करने का प्रयास किया ज रहा है। यह शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि उनके किसी बयान से अगर मुख्यमंत्री को ठेस पहुची है तो वह इसके लिए खेद व्यक्त करती हैं।

मुरादाबाद में बुधवार महिला कांग्रेस की सभा में जोशी की एक टिप्पणी पर विवाद खड़ा हो गया है। हत्या और बलात्कार की घटनाओं में पुलिस महानिदेशक द्वारा पीड़ित परिवार को मुआवज दिए जने के संदर्भ में उन्होंने तीखी टिप्पणी की थी। इस टिप्पणी पर जोशी के खिलाफ एफआईआर तक लिखी जने की चर्चाए फैल गईं। लेकिन पुलिस सूत्रों ने इस बात से साफ इनकार कर दिया।

देर रात कांग्रेस दफ्तर से जोशी की ओर से जरी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि उनके बयान को संदर्भ से अलग हट कर पढ़ा ज रहा है। उन्होंने कहा-मैं महिला आंदोलन की उपज हू। महिलाओं के लिए मेरे दिल में सच्ची श्रद्धा है। मुङो यह देखकर गुस्सा आया कि प्रदेश में बलात्कार का शिकार हुई महिलाओं को पैसा देकर संतुष्ट करने का प्रयास किया ज रहा है। उन्होंने माग की कि महिलाओं की हत्या और बलात्कार को थोड़े से धन से तौलने के शर्मनाक कार्य के लिए सरकार भी खेद व्यक्त करे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा गिरफ्तार, घर फूंका