अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिरदर्द को ऐसे दें मात

पानी पीकर
डिहाइड्रेशन की वजह से भी सिरदर्द हो जाता है, क्योंकि ऐसे में खून कोशिकाओं में कम ऑक्सीजन पहुंचा पाता है।

कसरत कर के
हफ्ते में तीन बार आधे-आधे घंटे के लिए बाहर निकलकर साइक्लिंग, दौड़, तैराकी या जॉगिंग जैसी कसरत करें। इससे सिरदर्द नहीं होता।

कोल्ड शॉक देकर
बर्फ का चूरा कपड़े में लपेटकर सिर पर रख लें। सिरदर्द में आराम मिलेगा।

एक्यूप्रेशर से
कनपटियों या जिस हिस्से में दर्द हो रहा हो, वहां दबाकर मालिश करें।

दांत की जांच
खाना खाते वक्त गलत तरीके से दांत-जबड़े चलाने से भी सिरदर्द हो जाता है इसलिए ढंग से खाएं।

ब्लड शुगर लेवल
ब्लड शुगर का लेवल कम न हो, इसके लिए नियमित खाएं। मैग्नीशियम से भरपूर खाना ठीक रहता है।

धूप से बचें
जिन लोगों को सिरदर्द होता है, वे धूप या रोशनी बर्दाश्त नहीं कर पाते। ऐसे लोगों को सूर्य स्नान जसा दुस्साहस नहीं करना चाहिए।

वॉर्म अप
गर्दन को गर्म तकिए से सेकें। ड्रायर से गर्म हवा देकर मसाज भी कर सकते हैं या फिर गर्म पानी से नहाएं।

एरोमाथेरेपी
ललाट और कनपटियों पर पिपरमेंट का तेल लगाएं।

चिरोप्रैक्टर
सर्वाइकल खिसक जाने से तनाव व सिरदर्द हो जाता है। इसे चेक करें।

सही खाना
पनीर, रेड वाइन, चॉकलेट, पॉर्क, मेवे जैसे खाद्य पदार्थ कई बार सिरदर्द को जन्म देते हैं। इसका ध्यान रखें।

रिलैक्स
तनाव दूर रखने और मांसपेशियों को आराम देने से बड़े से बड़ा सिरदर्द मिट जाता है।

कॉफी पी लें
कैफीन खून के दौरे और कोशिकाओं में ऑक्सीजन की आवाजही दुरुस्त रखती है, जिससे सिरदर्द ठहर नहीं पाता।

एस्पिरिन
और कोई उपाय काम न करें, तो गोली तो है ही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिरदर्द को ऐसे दें मात