DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आस्ट्रेलिया लार्ड्स व इंग्लैंड कार्डिफ से प्रेरणा लेगा

आस्ट्रेलिया लार्ड्स व इंग्लैंड कार्डिफ से प्रेरणा लेगा

आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की टीमें गुरुवार को जब ऐतिहासिक लार्ड्स मैदान पर एशेज सीरीज का दूसरा क्रिकेट टेस्ट खेलने उतरेंगी तो दोनों के लिए अलग-अलग प्रेरणास्रोत होंगे। आस्ट्रेलिया ने क्रिकेट का मक्का कहलाने वाले इस मैदान पर मेजबान टीम के खिलाफ 1934 के बाद से एक भी टेस्ट नहीं गंवाया है और इस टेस्ट में भी वह अपने इस रिकार्ड को बनाए रखने की कोशिश करेगा। दूसरी ओर, इंग्लैंड कार्डिफ टेस्ट में अपनी अंतिम जोड़ी के साहसिक प्रदर्शन से प्रेरणा लेकर आस्ट्रेलिया से दो-दो हाथ करने उतरेगा।

कार्डिफ टेस्ट में जेम्स एंडरसन और मोंटी पनेसर की अंतिम जोड़ी ने आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का साहस के साथ सामना करते हुए मेहमान टीम कोसीरीज में 1-0 की बढ़त लेने से वंचित कर दिया था। आस्ट्रेलिया के हाथ से भले ही यह मैच फिसल गया हो लेकिन उसने पूरे मैच के दौरान जिसतरह अपना दबदबा बनाए रखा उससे लार्ड्स टेस्ट में मनोवैज्ञानिक लाभ उसी के साथ रहेगा।

आस्ट्रेलिया ने लार्ड्स के मैदान पर 1934 के बाद से इंग्लैंड के खिलाफ कोई मैच नहीं गंवाया है। तब यार्कशायर के लेफ्ट आर्म स्पिनर हेडले वेरिटीने दुनिया के सर्वकालिक महान बल्लेबाज डान ब्रैडमैन को दोनों पारियों में सस्ते में निपटाते हुए कुल 15 विकेट चटकाए थे। आस्ट्रेलिया के कप्तान रिकी पोंटिंग ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस मैदान पर आस्ट्रेलिया का रिकार्ड शानदार है। टीम बैठक में खिलाड़ी इस बारे में बात कर रहे थे और हर खिलाड़ी को यहां खेलने का बेसब्री से इंतजार है। हमारे युवा खिलाड़ियों के लिए यहां खेलने का बहुत महत्व है। एशेज सीरीज में पहली बार खेल रहे मार्कस नार्थ, नाथन हारित्ज, बेन हिल्फेनहास और पीटर सिडल ने कार्डिफ टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया था जो आस्ट्रेलिया का उत्साह बढ़ाने के लिए काफी है।

नार्थ ने जहां अपना दूसरा टेस्ट शतक जड़ा था वहीं, ऑफ स्पिनर हारित्ज ने दो विकेट चटकाए थे जबकि तेज गेंदबाज हिल्फेनहास और सिडल नेजानसन के औसत प्रदर्शन की भरपाई की थी। लार्ड्स की पिच तेज गेंदबाजों को मदद करती है। ऐसे में इंग्लिश बल्लेबाजों को सिडल, जॉनसन और हिल्फेनहास की तिकड़ी से सावधान रहना होगा।

जहां तक इंग्लैंड का सवाल है तो घुटने की चोट से जूझ रहे हरफनमौला खिलाडी एंड्रयू फ्लिंटाफ का लार्ड्स टेस्ट में खेलना मुश्किल है। यहमेजबान टीम के लिए अच्छी खबर नहीं है क्योंकि फ्लिंटाफ गेंदबाजी के साथ-साथ बल्लेबाजी में भी अपना योगदान दे सकते हैं। हालांकि टीम केकोच एंडी फ्लावर ने उम्मीद जताई है कि फ्लिंटाफ लार्ड्स टेस्ट के लिए फिट हो जाएंगे।

डरहम के तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिसन को टीम में वापस बुलाया गया है जिन्होंने हाल ही में काउंटी क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया था। दूसरेटेस्ट में उनके खेलने की प्रबल संभावना है। इंग्लिश कप्तान एंड्रयू स्ट्रास ने कहा कि टेस्ट मैच जीतने के लिए आपको 11 सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों कोचुनना होता है। हमें यह तय करना है कि किसी खास विकेट पर हमारे कौन से गेंदबाज अधिक कारगर साबित हो सकते हैं।

स्ट्रास ने कहा कि लार्ड्स पर ग्राहम ओनियंस का रिकार्ड शानदार रहा है। उन्होंने यहां अपने पहले ही टेस्ट में सात विकेट चटकाए थे और वह जबर्दस्त फार्म में हैं लेकिन स्टीव ने 2005 एशेज सीरीज में यहां अच्छा प्रदर्शन किया था जो बात उनके पक्ष में जा सकती है। उन्होंने कहा कि इंग्लिश बल्लेबाजों को कार्डिफ के निराशाजनक प्रदर्शन से सबक लेकर बड़ा स्कोर बनाना होगा और गेंदबाजों को रन लुटाने में कंजूसी करनीहोगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आस्ट्रेलिया लार्ड्स व इंग्लैंड कार्डिफ से प्रेरणा लेगा