DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीनगर पुलिस का दावा, दोस्तों ने की थी हत्या

श्रीनगर पुलिस का दावा, दोस्तों ने की थी हत्या

असरार डार नामक जिस युवक की हत्या के बाद पिछले सप्ताह जम्मू एवं कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हुए उस युवक की हत्या उसके दोस्तों ने की थी। गत सात जुलाई को उसका शव बरामद हुआ था।

डार तीन जुलाई को मैसुमा स्थित अपने घर से लापता हो गया था और सात जुलाई को उसका शव रैनावाड़ी से बरामद किया गया था। श्रीनगर के पुलिस अधीक्षक अफादुल मुज्तबा ने कहा कि डार के दो दोस्तों इमरान और आसीन ने उसकी हत्या की थी। हत्या के पीछे कारण प्रेम त्रिकोण था।

मुज्तबा ने कहा, ‘‘दिल्ली की एक लड़की से सोसल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक के माध्यम से डार संपर्क में थी, इस कारण उसके दोस्त इमरान को जलन हो रही थी। इमरान पहले उक्त लड़की के साथ डेटिंग कर चुका था।’’

इमरान डार को इलाही बाग स्थित अपने घर ले गया जहां उसने आसिम के साथ मिलकर डार के सिर पर लोहे की छड़ से हमला किया। युवकों ने डार के शव को घर के एक कमरे में बंद कर दिया।

इसके बाद सात जुलाई को इमरान और आसिम ने डार के शव को अपने चाचा की कार में डालकर रैनवाड़ी क्षेत्र में फेंक दिया। यहीं से पुलिस ने डार का शव बरामद किया था। उन्होंने कहा कि इमरान और आसिम दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। डार की हत्या के बाद शहर में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हुए थे। लोगों का आरोप था कि सुरक्षाबलों ने डार को मारा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्रीनगर पुलिस का दावा, दोस्तों ने की थी हत्या