DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा में बालिका वधू को बैन करने की मांग

लोकसभा में बालिका वधू को बैन करने की मांग

मशहूर टेलीजिवन धारावाहिक (बालिका वधू) के जरिए देश में बाल विवाह को बढावा दिए जाने पर आज लोकसभा में गहरी आपत्ति दर्ज की गई और सरकार से इस मामले में तत्काल कार्रवाई करने की मांग की गई।

सदन में प्रश्नकाल के दौरान जनता दल (यूनाइटेड)के शरद यादव ने इस मामले को उठाते हुए कहा कि देश में बाल विवाह उन्मूलन के लिए लागू शारदा कानून के बावजूद इस टेलीविजन धारावाहिक के जरिए बाल विवाह को खुलेआम बढावा दिया जा रहा है और सरकार हाथ पर हाथ धरे चुपचाप बैठी हुई है। उन्होंने सरकार से इस मामले में तत्काल कार्रवाई करने की मांग की।

 इस मामले में जद .यू. के राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और विपक्षी पार्टियों के कई सदस्यों ने इस मामले में उनकी मांग का समर्थन किया। सूचना और प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी ने जवाब में कहा कि इलेक्ट्रानिक मीडिया के जरिए प्रसारित कार्यक्रमों पर निगरानी के लिए इलेक्ट्रानिक मीडिया मानिटरिंग केन्द्र बनाया गया है जो इस समय देश भर के 150 चैनलों से प्रसारित कार्यक्रमों की मानिटरिंग कर रहा है।

 उनके जवाब से असंतुष्ट होकर कई सदस्य अपनी सीट पर खडे हो गए और मंत्री पर प्रश्न को टालने तथा संदर्भ से अलग हटकर जबाव देने का आरोप लगाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकसभा में बालिका वधू को बैन करने की मांग