अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्धारित लक्ष्य से कम सींच वाले खण्डों के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी

उत्तर प्रदेश के सिंचाई यांत्रिक राज्य मंत्री जयवीर सिंह ने राजकीय नलकूपों द्वारा निर्धारित लक्ष्य से कम सींच वाले खण्डों को चिह्नित कर उनके अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

मंत्री ने राजकीय नलकूपों से रबी सींच की प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया है।

उन्होंने नलकूप खण्ड कांशीराम नगर, एटा, अलीगढ़, बरेली, इटावा, बहराइच, सुल्तानपुर, फतेहपुर, मैनपुरी, बदायूं, फिरोजबाद, तथा अनुरक्षण खण्ड देवरिया की प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया ।

उन्होंने मिर्जापुर, उरई तथा बांदा में सींच प्रति नलकूप 30 हेक्टेयर पाए जाने पर वहां के अधिकारियों की सराहना की। उन्होंने कहा कि जिन नलकूप खण्डों में सींच संतोषजनक नहीं पाई गई है, उन खण्डों के अधिशासी अभियंताओं से स्पष्टीकरण मांगने के निर्देश दिए गए हैं।

जयवीर सिंह ने निर्देश दिए कि प्रत्येक मण्डल में न्यूनतम एवं अधिकतम घंटे सींच करने वाले खण्डों को चिह्नित किया जाए। उन्होंने कहा कि जिन खण्डों द्वारा न्यूनतम सींच की गई है और उनकी विवेचना कर एक सप्ताह मे रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लक्ष्य हासिल नहीं करने वालों पर कार्रवाई के निर्देश