अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लो सज गई कार..

लो सज गई कार..

चाहे सामान्य कार हो या लग्जरी कार, युवाओं के हाथ आते ही उसे और आकर्षक बनाने का सिलसिला शुरू हो जाता है। वाकई युवाओं में कार की सजावट को लेकर काफी क्रेज होता है और इसके लिए वह हमेशा ही नई-नई चीजें ढूंढते रहते हैं। ‘मेरे पास स्विफ्ट कार है, जिसे स्टीकर, लाइट, पेंट आदि की मदद से मैंने इस तरह सजाया है कि वह बिल्कुल ही अलग नजर आती है।’ कहते हैं जिम ट्रेनर आकाश।

लोगों, खासकर युवाओं की मानसिकता को देखते हुए कार डेकोरेशन से संबंधित चीजों की बाजार में भी कोई कमी नहीं है। कार ग्राफिक्स, हैलोजन लैंप, म्यूजिक सिस्टम, एलॉय व्हील्स आदि तमाम एक्सेसरीज हैं, जिनके कई डिजाइन कार डेकोर की दुकानों में आसानी से उपलब्ध हैं। कार के लिए किसी भी उपकरण या एक्सेसरीज के चयन के लिए सिर्फ देखादेखी नहीं करनी चाहिए, बल्कि कार के मूल स्वरूप व उसकी क्षमता का भी ध्यान रखना चाहिए। इस संबंध में खास बात यह है कि किसी भी एक्सेसरीज को लगाने से पहले किसी विशेषज्ञ से सलाह जरूर लेनी चाहिए।  

कार की सजावट की बात करें तो कार ग्राफिक्स सबसे लोकप्रिय एक्सेसरीज है। इसके लिए करीब 500 से 3000 रुपये का खर्च आ सकता है।

हाई एंड एम्प्लीफायर और वूफर से युक्त म्यूजिक सिस्टम आपकी  कार के लिए बेहतर होगा। इससे आवाज की बेहतर गुणवत्ता का अनुभव होगा।

यदि आप टच स्क्रीन व 5.1 चैनल डिजिटल सराउंड साउंड सिस्टम लगवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको 10,000 से 50,000 रुपये तक खर्च करने पड़ सकते हैं।

एचआईडी लाइट्स से आप हेडलाइट और अन्य बल्बों को बदल सकते हैं, ताकि रात में बेहतर दिखाई दे। खर्च होगा 5000 से 10,000 रुपये तक।

खास तौर पर बनाए गए एयर फिल्टर से इंजन को मजबूती मिलती है, जिसके लिए आपको 3000 से 20,000 रुपये तक खर्च करना पड़ सकता है।

रैली ड्राइविंग सीट भी युवाओं में काफी लोकप्रिय है। कीमत है 10 से 30 हजार रुपये तक।
                  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लो सज गई कार..