DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मौसम ने दी राहत,बिजली अब भी बनी है आफत

बारिश की फुहारों से जहां मौसम खुशगवार हो गया है। वहीं बिजली कटौती अब भी आफत बनी हुई है। डीपीएच में फुंका ट्रांसफार्मर तो बनने के लिए चला गया है। लेकिन नए के जल्द आने की उम्मीद नहीं है।


डीजल पावर हाउस में उच्च क्षमता का ट्रांसफार्मर फुंकने से शहर में बिजली की समस्या ने विकराल रूप ले लिया है। हालांकि मौसम की वजह से लोगों को कुछ राहत जरूर मिली है। लेकिन बिजली की किल्लत ने छका रखा है। इस दौरान शहर के विभिन्न इलाकों को टर्न के हिसाब से बिजली दी जा रही है। इसमें जिस इलाके को दो घंटे बिजली दी जाती है। वहां की अगले दो घंटे बिजली सप्लाई बंद कर दी जाती है। इसी तरह शेडयूल बना कर इलाकों को बिजली दी जा रही है। पावर अधिकारियों ने बताया कि संभल से पांच एमवीए का ट्रांसफार्मर दो-तीन दिन में आने की उम्मीद है। वहीं डीपीएच में फुंका साढ़े बारह एमवीए का ट्रांसफार्मर बनने के लिए नोएडा भेज दिया गया है। एसडीओ एस.के.बघेल ने बताया कि ट्रांसफार्मर में आग लगने से कुछ खास नुकसान नहीं हुआ है। पोलेंड में बना यह ट्रांसफार्मर काफी अच्छी क्वालिटी का है। तभी तो चार दशक बीत जाने के बाद भी अभी काम करने के लायक है। इतनी ज्यादा आग लगने के बाद भी सिर्फ वोल्टेज कंट्रोलर ही खराब हुआ है। जबकि इसके अंदर लगी वाइडिंग बिलकुल ठीक हालत में है। बघेल ने बताया कि संभल से ट्रांसफार्मर दो-तीन दिन में आने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि इस सप्ताह के अंत तक शहर की सप्लाई नार्मल कर दी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मौसम ने दी राहत,बिजली अब भी बनी है आफत