अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश कहां गयी?

पता ही नहीं चल रहा कि बारिश कहां चली गयी? आयी तो थी, पर जैसे आयी थी, वैसे ही चली भी गयी। बता रहे थे कि जबकेरल से चली थी, तो अच्छी चली थी। पर बीच में अटक गयी। वैसे ही जैसे सरकारी योजनाएं अटक जाती हैं। सरकारी योजनाओंको अटकानेवालों की तो खैर एक पूरी जमात होती है, पर बारिश को किसने अटकाया। पता चला कि बारिश को आइला चक्रवातपी गया। अब आइला चक्रवात कोई अगस्त्य मुनि तो थे नहीं कि सारी बारिश पी गये। वह कोई जल बोर्ड भी नहीं था कि जनता को मिलनेवाला सारा पानी किसी दूसरे को पिला दे या फिर बर्बाद कर दे। बहा दे। आइला पर एकदम ऐसे आरोप लगा जैसे नौकरशाही पर लगता है, जैसे सत्ता के दलालों पर लगता है कि केंद्र से गांव के गरीबों के लिए जो एक रुपया चलता है, उसका पंद्रह पैसे ही वे उन तक पंहुचने देते हैं। बाकी सारा खुद डकार जाते हैं।

मौसम विभागवाले सारी उम्मीदें छोड़कर यही कहने लगे थे कि इस बार सिर्फ पंद्रह पैसे ही पहुंचेंगे। यानि बारिश बहुत कम होगी।मानसून कमजोर पड़ गया है। अब मानसून भी अगर गरीबों की तरह कमजोर पड़ने लगा तो गरीब का क्या होगा। गरीब तो कुपोषण का शिकार होकर कमजोर हो जाता है। पर मानसून कैसे कमजोर हो गया। क्या वह भी कुपोषण का शिकार हो गया। लोग कहते तो जरूर हैं कि हवा-पानी में पोषण नहीं रहा। धरती तक गर्म हो रही है। ओजोन की परत में छेद हो गया है। तो हो सकता है मानसून भी कुपोषण का शिकार हो गया हो और इसीलिए कमजोर हो गया हो। पर अचानक फिर बारिश होने लगी। वहदिल्ली तक बिल्कुल वैसे ही पहुंची जैसे दौड़ में एकदम पीछे दिखनेवाला धावक फिनिशिंग लाइन पर सबसे आगे मिले। एकदम टाइम पर।
पर वह फिर गायब हो गयी। मौसम विभागवालों ने कहा था कि अब भरपूर बारिश होगी। पर यह बात तो एकदम नेताओं के वादेजैसी ही निकली। बारिश कोई बिजली तो है नहीं कि आयी और चली गयी। इधर खबर यह आयी है कि बिजली को तो कंपनियांबेचकर मुनाफा बना रही है। लेकिन ऊपरवाला उनकी तरह बारिश को थोड़े ही किसी को बेच रहा होगा कि चलो मुंबई में ऊंचे दाम मिल रहे हैं, उनको दे देते हैं।

बारिश कोई महिलाओं के गले की चेन तो है नहीं कि झपटमार लेकर भाग जाएं। बारिश किसी खोसला का घोसला भी नहीं है कि कोई खुराना उसे गायब कर देगा। बारिश किसान की जमीन भी नहीं है कि सरकार उसे उसकी इच्छा के विपरीत छीन लेगी। फिर भी पता नहीं बारिश कहां गायब हो गयी?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बारिश कहां गयी?