अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जी-8 में ग्रीन फंड पर चर्चा से भारत आशान्वित

जी-8 में ग्रीन फंड पर चर्चा से भारत आशान्वित

दुनिया के सर्वाधिक विकसित अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों के समूह जी-आठ की शिखर बैठक में ग्रीन फंड के गठन पर चर्चा के मद्देनजर भारत को उम्मीद है कि जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर प्रगति होगी।

जलवायु परिवर्तन पर प्रधानमंत्री के विशेष दूत श्याम सरन ने शुक्रवार को कहा कि जी-आठ के सदस्यों द्वारा ग्रीन फंड को वित्तीय सहायता प्रदान करने की बात कही गई जो कि एक सकारात्मक कदम है। सरन ने कहा कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री गोर्डन ब्राउन ने 100 अरब डॉलर की राशि वाले इस फंड के गठन का सुझाव दिया था।

उल्लेखनीय है कि विकसित जी-8 के सदस्य सन 2020 तक ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन 40 फीसदी और 2050 तक 80 फीसदी कम करने की जी-5 देशों की मांग पूरी करने को तैयार नहीं हुए हैं। यद्यपि विकसित देशों ने सन 2050 तक ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन 50 फीसदी तक कम करने पर सहमति जताई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जी-8 में ग्रीन फंड पर चर्चा से भारत आशान्वित