अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोर्ट ने दी राजू के ब्रेन मैपिंग टेस्ट की अनुमति

कोर्ट ने दी राजू के ब्रेन मैपिंग टेस्ट की अनुमति

हैदराबाद की एक स्थानीय अदालत न गुरुवार को केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सत्यम कंप्यूटर सर्विसेस लिमिटेड में 7800 करोड़ रुपए के घोटाले के मामले में जेल में बंद कंपनी के संस्थापक बी रामलिगा राजू और दो अन्य आरोपियों पर फॉरेंसिक लाई डिटेक्टर और ब्रेन मैपिंग टेस्ट करने की अनुमति दे दी।

मनोनित सीबीआई अदालत ने सीबीआई को ये परीक्षण करने की अनुमति देते हुए कहा कि जांच एजेंसी आठ सप्ताह में जांच पूरी कर अदालत में रिपोर्ट पेश करे। अदालत ने परीक्षण के दौरान बचाव पक्ष के वकील को मौजूद रहने की अनुमति भी दे दी। राजू के अतिरिक्त उनके भाई एवं सत्यम के पूर्व प्रबंध निदेशक बी रामा राजू और पूर्व मुख्य वित्त अधिकारी वी श्रीनिवास पर ये परीक्षण किए जाएंगे। अदालत ने कहा कि परीक्षण किए जाने से एक दिन पहले बचाव पक्ष को इसकी जानकारी दी जानी चाहिए।

सीबीआई आरोपियों की गिरफ्तारी के 90 दिनों के भीतर ही आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है। जाचं एजेंसी ने यह पता लगाने के लिए परीक्षण करने की अनुमति मांगी थी कि आरोपियो ने सत्यम के रुपए को कहां-कहां निवेश किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोर्ट ने दी राजू के ब्रेन मैपिंग टेस्ट की अनुमति