DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डाक्टरों ने घोषित किया मृत, मगर वह निकला जिंदा

उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित एक नर्सिग होम के डॉक्टरों ने जिस मरीज को मृत घोषित किया था उसके होश में आने पर परिजनों ने वहां बवाल मचाया।

पुलिस के अनुसार, गांव भरतौनी निवासी जीतेन्द्र मंगलवार को एक सडम्क दुर्घटना में घायल हो गया था जिसे यहां भर्ती कराया। डॉक्टरों ने उसकी हालत देख कर परिजनों से बहत्तर घंटे प्रतीक्षा करने को कहा। बुधवार सुबह डॉक्टरों ने उसके बचने की उम्मीद न होने का दावा कर उसे घर ले जाने की सलाह दी और कुछ देर बाद उसे मृत घोषित कर दिया। परिजन उसके शरीर से लिपट कर विलाप करने लगे।

इसी बीच एक महिला बेहोश हो गई। उसे होश में लाने के लिए उसके मुंह पर पानी की बौछारें मारीं तो उसके छींटे जीतेन्द्र के ऊपर पर पडम्े और इसके बाद उसके शरीर में हरकत होने लगी। लोगों ने उसे पानी पिलाया तो उसने पी लिया। परिजन दोबारा उसे लेकर अस्पताल पहुंचे गए और जीतेन्द्र को जबरिया मृत घोषित किए जाने पर बवाल कर दिया। पुलिस ने हस्तक्षेप कर मामले को शांत कराया। बाद में परिजनों ने जीतेन्द्र को दूसरे नर्सिंग होम में भर्ती करा दिया। यहां उसकी हालत में सुधार बताया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डाक्टरों ने घोषित किया मृत, मगर वह निकला जिंदा