अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंद्र देव को मनाने के लिए गोबर की होली

उत्तर प्रदेश के फरुखाबाद जिले में लोग इंद्र देवता को मनाने के लिए रंगों से नहीं बल्कि गोबर की होली खेल रहे हैं।जिले के भोलेपुर गांव के लोगों ने मेघों को रिझाने के लिए गुरुवार को भारी संख्या मंे एक दूसरे पर गोबर फेंककर होली खेली।एक ग्रामीण सोनतारा ने बताया कि इस गांव की यह बहुत पुरानी परंपरा है कि जब भी बारिश नहीं होती तो ग्रामीण इंद्र देव को प्रसन्न करने के लिए गोबर की होली खेलते हैं।

उन्हांेने बताया कि इस होली को गांव के सभी लोग मिलकर खेलते हैं लेकिन ज्यादा भागीदारी युवतियांे की होती है। ऐसी मान्यता है कि युवतियांे के होली खेलने से इंद्र जल्दी खुश हो जाते हैं और फिर अच्छी बारिश करते हैं। ग्रामीणांे के मुताबिक होली खेलने की शुरुआत पूजा से होती है। महिलाएं गोबर की टोकरियांे को चारांे तरफ से घेरकर पूजा-अर्चना करती हैं। उसके बाद गोबर की टोकरियों को अपने सर के ऊपर रखकर एक दूसरे पर गोबर फेंककर होली खेलती हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक 6 जुलाई तक प्रदेश के हर जिले मंे औसतन 44.4 मिलीमीटर बारिश हुई है। प्रदेश के पश्चिमी हिस्से मंे स्थिति दयनीय है। वहां सामान्य से 76 फीसदी कम बारिश हुई है। मौसम विभाग के निदेशक जे.पी. गुप्ता ने गुरुवार को आईएएनएस को बताया कि मानसून फिर से सक्रिय हो रहा है। उम्मीद है कि अगले पांच-छह दिनांे मंे मानसून सूबे के हर हिस्से मंे पहुंच जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंद्र देव को मनाने के लिए गोबर की होली