DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत सेटेलाइट फोन का मुद्दा पाक के सामने उठाएगा

भारत सेटेलाइट फोन का मुद्दा पाक के सामने उठाएगा

भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की अगले सप्ताह मिस्र में होने वाली बैठक से पहले भारत ने कहा है कि वह आतंकवादियों सहित मुंबई हमलों के सूत्रधारों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सेटेलाइट फोन के छद्म रूपों का मामला पाकिस्तान के समक्ष उठाएगा।

विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने संवाददाताओं से कहा कि हमें या पाकिस्तान को परेशानी होने पर हम हमेशा पारस्परिक रूप से मुद्दों को उठाते हैं।

आतंकवादियों की गतिविधियों का पता लगाने को कठिन बनाने के लिए उनके द्वारा उपयोग किए जाने वाले थुराया सेटेलाइट फोन के पाकिस्तान द्वारा छद्म संस्करण तैयार करने संबंधी खबरों पर टिप्पणी करते हुए कृष्णा ने यह बात कही। कृष्णा ने कहा कि पाकिस्तान जो भी करता है, भारत उस पर बारीकी से नजर रखता है।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार भारत और पाकिस्तान को विभाजित करने वाली नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा के पूरे क्षेत्र में ट्रांसमीटर स्थापित किए गए हैं, इससे आतंकवादियों द्वारा उपयोग किए जाने वाले थुराया सेटेलाइट फोन के सिग्नल मिलने बंद हो गए हैं।

भारत को संदेह है कि ये ट्रांसमीटर पाकिस्तान के रणनीतिक सहयोग के बिना स्थापित करना संभव नहीं है। इससे भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को थुराया सेटेलाइट फोन के सिग्नलों के सहारे घुसपैठ का पता लगाना कठिन हो गया है।

उल्लेखनीय है कि आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा के लिए वहां के विदेश सचिव सलमान बशीर और भारतीय विदेश सचिव शिवशंकर मेनन 14 जुलाई को शर्म अल-शेख में बैठक करेंगे।

विदेश सचिवों की समीक्षा बैठक ही प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी की शर्म अल-शेख में गुटनिरपेक्ष शिखर सम्मेलन के दौरान होने वाली मुलाकात का रुख तय करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत सेटेलाइट फोन का मुद्दा पाक के सामने उठाएगा