अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चीन : पुलिस व प्रदर्शनकारियों में झड़प, 140 मरे

चीन : पुलिस व प्रदर्शनकारियों में झड़प, 140 मरे

चीन में पश्चिमी झिनजियांग प्रांत की राजधानी उरूमकाई में भड़के विरोध प्रदर्शनों के बाद की गई कार्रवाई में 140 लोग मारे गए हैं। चीन की सरकारी एजेंसी ने कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष के हवाले से मृतकों की इस संख्या की पुष्टि की है।

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने क्षेत्रीय पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा है कि झड़प में 129 लोग मारे गए हैं और 816 लोग घायल हुए हैं। इस एजेंसी ने कहा कि पुलिस ने इन दंगों को भड़काने वाले दस प्रमुख लोगों के साथ सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि उरूमकाई शहर की आबादी लगभग 23 लाख के करीब है और लोग यहां गत जून में हान चीनी फैक्ट्री और उयगर कर्मचारियों के बीच हुई झड़प में सरकारी रवैये को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस झड़प में शाओगुआन में दो कामगारों की मौत हो गई थी। सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने कहा है कि झिनजियांग के दूसरे हिस्सों में हिंसा की कोई ताजा खबर नहीं मिली है और स्थिति नियंत्रण में है।

हालांकि उरूमकाई शहर के नागरिकों ने टेलीफोन के जरिए कहा है कि पूरे शहर में सैनिक शासन जैसी स्थिति उत्पन्न कर दी गई है। सिन्हुआ ने अपना नाम गुप्त रखे एक सरकारी अधिकारी के हवाले से बताया कि विरोध प्रदर्शनों की सारी कार्रवाई ‘विश्व उयगर कांग्रेस’ की नेता रबिया कदीर द्वारा चलाई जा रही है और सरकार इसे हिंसा फैलाने के तौर पर देखती है।

रबिया कदीर उयगर की एक निर्वासित महिला व्यवसायी हैं और फिलहाल अमेरिका में हैं। कदीर को चीन सरकार ने अलगाववादी कार्रवाइयों में संलिप्त रहने का आरोप लगाकर उन्हें वर्षों तक जेल में बंद रखा था। हालांकि उयगर अलगाववादी समूहों ने चीन सरकार के आरोपों का खंडन करते हुए कहा है कि लोगों का विरोध सरकारी नीतियों और आर्थिक लाभों पर हान चीनी एकाधिकार के खिलाफ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चीन : पुलिस व प्रदर्शनकारियों में झड़प, 140 मरे