DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेल की झेल

बाजार में तेल की कीमतें बढ़ गईं। एक बात तो सिद्घ है, केंद्र की सरकार अपने कार्यकाल के सौ दिनों के भीतर जनता के जीवन-स्तर को सुधारने के लिए कतई कृतसंकल्प है। अभी तो यह ‘मनमोहन’ के ‘मुरली’ की पहली धुन है। नौ मन तेल की जो भी कीमत हो, बेचारी जनता रूपी राधा को तो नाचना ही है।

बहरहाल, जबकि इन दिनों सारी जनता एक ही मुद्दे पर अपना तेल जलाने में लगी हुई है, मैं और ही व्यथा लेकर उपस्थित हूं। पिछले वीक वाकया कुछ यूं हुआ कि मैं स्वयं तेल के फेर में सद्दाम हुसैन होते-होते बचा। डिफरेंस इतना रहा कि अपुन का तेल कुएं वाला न होकर सरसों का था। तेल की धार देखने वाले मुझे आकर देख लें। तेल की मार कैसी होती है, पता चल जाएगा। बाजार से एक बोतल सरसों का सस्ता तेल खरीद लाना इतना महंगा पड़ सकता है, मुझे इसका गुमान न था। इस तेल के खेल में ऐसी झेल हुई है कि यह देह तेल की निचुड़ी दिखलाई पड़ने लगी है।

नकली तेलों के तेलगी तो मेरे पीछे पड़े ही, ऐसा लगा जैसे मैं स्वयं तेल लेकर अपने ही पीछे पड़ लिया। एडल्ट्रेटेड ऑयल खाकर भी यह आत्मा शरीर के बाहर नहीं फिसली, इससे मुङो आत्मा के अस्तित्व पर ही संदेह होने लगा है। अब तो मेरे शहर के शनीचर महाराज तक तेल से बचते फिर रहे हैं। कहीं किसी ने उनकी लोहे की मूरत को मिलावटी तेल से नहला दिया तो बेचारे को अस्पतालित होना पड़ सकता है। इन नकली तेल के तेलियों में वह क़ूवत है कि ये शनीचर जैसों की ही ग्रह दशा खराब कर के रख सकते हैं।

पिछले दिनों एक माननीय के साथ विलेज-टूर पर जाने का सुअवसर मिला। बोले-‘चलो तुम्हें दिखलाते हैं कि हमें कहां से तैलीय ऊर्जा मिलती है?’ उनकी कृपा से मैंने लहराते सरसों के खेतों और पियराए इंसानों के चेहरों के एक साथ दर्शन किए। वे पॉलिटिक्स का बथुआ खोटते हुए बोले-‘कभी इधर ही वह बसंती रहा करती थी, जिसके साथ हम सरसों के साग चरा करते थे।’ माननीय के फेस पर सदाबहार बसंतिया ऑयल की चमक थी।

काश, मैं तब जान पाता कि यह उसी मिलावटी तेल की चमत्कार थी, जिसे व्यापारी सिक्कों की शक्ल में उन्हें भेंटते हैं और चमचे इलेक्शन के दिनों में लाठियों को पिलाया करते हैं। मगर हम जैसे कोल्हू के बैल क्या जानें कि तेल भी हमारी ही मेहनत से निकाला जाता है और निकलता भी हमारा ही है। धार का मजा कोई ले रहा होता है, ड्रॉप्सी हमारी गृहस्थी की गाड़ी को होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तेल की झेल