अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीवन बचाने की एक कोशिश

जीवन बचाने की एक कोशिश

दोस्तो, हमें खुद को जीवित रखने के लिये भोजन पर पूरी तरह से निर्भर रहना होता है। यह भोजन हमें अनाज के रूप में पेड़-पौधों से मिलता है। जरा सोच कर देखो कि यदि किसी दिन कोई भयंकर विपदा आई और यह सारे पेड़-पौधे समाप्त हो गए तो फिर क्या होगा? यह सवाल मन में डर तो पैदा जरूर करता है, मगर जब इसी सवाल पर वैज्ञानिकों ने सोचना शुरू किया तो उन्होंने इसका हल भी निकाल लिया। इस हल को वैज्ञानिकों ने ‘सीड वॉल्ट’ का नाम और रूप दिया। सीड वॉल्ट वास्तव में एक बीज बैंक है। इसे बनाने में नॉर्वे और इंग्लैंड जैसे देशों का योगदान खासा अहम रहा है। बच्चो, दुनिया के कई देशों में ऐसे बीज बैंक हैं, जो अपने यहां पर फसलों, फूलों और दूसरी चीजों के बीजों को संजो कर रखते हैं। ऐसा इसलिये होता है कि कभी भी विपदा के समय वह काम आ सकें। तुम्हें याद होगा कि इंडोनेशिया की सुनामी या अफगानिस्तान युद्ध के दौरान होने वाली तबाही। यहां हम इसलिये इन बातों का जिक्र कर रहे हैं कि इन दोनों ही हादसों में वहां की फसलें और बीज पूरी तरह से नष्ट हो गए थे। कहीं कोई खेती करने के लिये किसी के पास कुछ नहीं था। तब इन बीज बैंकों ने ही इन देशों की मदद की थी। मगर अब इससे भी एक कदम आगे की बात वैज्ञानिकों ने की है। उन्होंने नॉर्थ पोल, जो दुनिया का बेहद ठंडा इलाका है, वहां पर एक बीज बैंक बनाया है। यह बीज बैंक दूसरे बैंकों जैसा ही है। मगर इतना विशाल है कि तुम शायद सोच भी नहीं सकते हो। यह ऐसी जगह है, जहां पर इस तरह की विपदा आसानी से नहीं आएगी। इसके अलावा वैज्ञानिकों ने इस जगह को इसलिये भी चुना, क्योंकि यहां के बर्फीले मौसम में बीज को लम्बे समय तक के लिये बचा कर रखा जा सकता है। जबकि दूसरी जगह पर इस पर काफी खर्चा आता है। इसको बनाते समय कई देशों ने आपसी समझौते के तहत इस जगह को नो वार जोन में बदल दिया। यानी किसी भी सूरत में यहां युद्ध नहीं होगा। यह सीड वॉल्ट बर्फ की चट्टानों को काटकर बहुत गहराई में अंदर तक बनाई गई है। इसमें किसी भी किस्म के लाखों की संख्या में बीज रखे हैं। दुनिया का कोई पेड़-पौधा ऐसा नहीं बचा है, जिसका बीज यहां पर मौजूद न हो। मजे की बात है कि यह बैंक किसी तरह की विपदा आने पर उस देश को बीज देने में किसी तरह की वसूली नहीं करता है। यह इस पृथ्वी पर जीवन को बनाए रखने के लिये ही किया जा रहा है। आज हम कह सकते हैं कि भले ही पृथ्वी पर से डायनासोर जैसे जीव लुप्त हो गए हों, मगर आज पृथ्वी पर जीवन बचाने की यह कोशिश देखकर लगता है कि शायद इस हरी-भरी पृथ्वी पर इसकी हरियाली हमेशा कायम रहेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीवन बचाने की एक कोशिश