अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूबी के 708 करोड़ रुपए संबंधी प्रस्ताव पर फैसला टला

सरकार ने विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की सिफारिश पर फरस्टार्ट इंक को परिवर्तनीय वारंट जारी कर 708 करोड़ रुपए जुटाने के यूनाइटेड ब्रुअरीज के प्रस्ताव पर फैसला टाल दिया है। उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक एफआईपीबी ने 19 जून को हुई बैठक में इस प्रस्ताव पर फैसला यह कहते हुए टाल दिया कि राजस्व विभाग (डीओआर) ने इसका समर्थन नहीं किया है और डीआईपीपी अभी भी इसका परीक्षण कर रहा है।
   

सूत्रों ने बताया कि डीओआर इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं करता और औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) ने इसे यह कहते हुए टालने की गुजरिश की है कि वह अभी भी इसका परीक्षण कर रहा है। इसलिए एफआईपीबी ने इस पर फैसला टाल दिया। विजय माल्या प्रवर्तित यूनाइटेड ब्रुअरीज होल्डिंग्स लिमिटेड (यूबीएचएल) ने एफआईपीबी को फरस्टार्ट को 63. 87 लाख परिवर्तनीय वारंट जारी करने की मंजूरी मांगी थी।
   

सूत्रों ने बताया कि डीओआर इस प्रस्ताव का समर्थन कई कारणों से नहीं कर रहा जिनमें फरस्टार्ट द्वारा ऋण के तौर पर 600 करोड़ रूपए लिया जाना भी शामिल है। फरस्टार्ट की पूरी चुकता पूंजी ललिता माल्या के पास है जो विजय माल्या की मां हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूबी के 708 करोड़ रुपए संबंधी प्रस्ताव पर फैसला टला