अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समय पर कागजात नहीं मिलने पर पेंशन निपटारे में देरी

मानव संसाधन विकास मंत्री हरिनारायण सिंह ने बुधवार को विधान परिषद में कहा कि समय पर कागजात उपलब्ध नहीं होने के कारण ही रिटायर हो रहे प्रधानाध्यापकों के पेंशनादि के मामलों के निष्पादन में देरी हो रही है।

केदार नाथ पाण्डेय के ध्यानाकर्षण के जवाब में मंत्री ने कहा कि जानबूझ कर ऐसा नहीं किया जाता।
इसके पहले श्री पाण्डेय ने कहा कि राज्य के माध्यमिक विद्यालयों के कई दर्जन सेवानिवृत प्रधानाध्यापकों के सेवांत लाभ से संबंधित सभी मामले छह माह से 1 वर्ष तक लंबित रखकर मानव संसाधन विकास विभाग में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार को बढ़वा दिया जा रहा है।

निदेशक (माध्यमिक शिक्षा) और सरकार के अवर सचिव के स्तर पर जानबूझ कर विलंब कर सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापकों को अपमानित, प्रताड़ित एवं आर्थिक दोहन, शोषण का शिकार बनने के लिए मजबूर किया जाता है।

इस मामले पर महाचन्द्र प्रसाद सिंह, वासुदेव सिंह, रामकिशोर सिंह एवं नरेन्द्र प्रसाद सिंह ने भी सरकार से कार्रवाई की मांग की। साथ ही सभापति प्रो.अरुण कुमार से हस्तक्षेप करने का आग्रह किया। सभापति ने सदस्यों को आश्वासन दिया कि वे सरकार से बात करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समय पर कागजात नहीं मिलने पर पेंशन निपटारे में देरी