DA Image
14 अप्रैल, 2021|4:55|IST

अगली स्टोरी

बेसा खफा, कहा- तुरंत हटाये एसपी को सरकार

इंजीनियरों ने कहा है कि सीतामढ़ी के एसपी इंजीनियर योगेन्द्र पाण्डेय की हत्या के साक्ष्यों को मिटा रहे हैं और सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई है। सीतामढ़ी के एसपी की इस हरकत से बिहार अभियंत्रण सेवा संघ खफा है और उसने सरकार से तुरंत उनको हटाने की मांग की है।

संवाददाता सम्मेलन में बेसा के अध्यक्ष जेके दत्ता और महासचिव राजेश्वर मिश्रा तथा अभियंत्रण सेवा संघर्ष समिति के अध्यक्ष एएनझा  अनल ने कहा कि सीतामढ़ी के एसपी अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर घटना से जुड़े लोगों परेशान भी कर रहे हैं। ऐसे में बेसा चुप नहीं बैठेगा।

उन्होंने कहा कि गृह सचिव अफजल अमानुल्लाह के आश्वासन के बाद 25 जून से होने वाली हड़ताल को टाला गया था। वार्ता के दौरान श्री अमानुल्लाह ने कहा था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वस्थ होते ही बेसा के साथ वार्ता करेंगे। बेसा को यह जानकारी मिली है कि मुख्यमंत्री कई कार्यक्रमों में शरीक हो रहे हैं पर बेसा को उनसे मिलने के लिए अब तक आमंत्रण नहीं मिला है। ऐसे में बेसा सशंकित है कि उनकी मांगों पर 1 जुलाई तक कार्रवाई होगी या नहीं।

उन्होंने कहा कि इंजीनियर पाण्डेय की हत्या के दोषी सीतामढ़ी एसपी और ठेकेदार पर हत्या का मुकदमा नहीं हुआ तो 2 जुलाई से इंजीनियरों की हड़ताल तय है। सरकार पर दबाव बनाने के लिए बेसा ने सोमवार से बुधवार तक आंदोलन तेज करने का कार्यक्रम बनाया है।

उसने सरकार से अपनी मांग दोहराई है कि इंजीनियर पाण्डेय के परिवार को आर्थिक लाभ उपलब्ध कराने से संबंधित आदेश तुरंत निर्गत किया जाए। इंजीनियर पाण्डेय को समय पर सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराने के दोषी अधिकारियों पर भी कार्रवाई की जाए। बेसा का मानना है कि उसके आंदोलन के प्रति सरकार गंभीर नहीं है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:साक्ष्यों को मिटा रहे हैं सीतामढ़ी के एसपी