DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीपंकर बोले, भाकपा माले बनाएगी सार्थक तीसरा मोर्चा

भाकपा माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि माले तीसरा मोर्चा में शामिल नहीं होगा बल्कि बिहार की तरह देशव्यापी सार्थक तीसरा मोर्चा बनायेगा। एनडीए और यूपीए गठबंधन ने देश को बर्बादी के कगार पर पहुंचा दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुक्कमल वामपंथ लोगों के सामने हैं और चुनाव परिणाम चौंकाने वाला होगा। उन्होंने चुनाव आयोग से फ्री एण्ड फेयर चुनाव कराने के लिए बाहुबलियों पर शिकंजा कसने की मांग की। संवाददाता सम्मेलन में श्री भट्टाचार्य ने कहा कि मजदूरों के नेता जार्ज फर्नाडीस का टिकट काट कर और मुन्ना शुक्ला, प्रभुनाथ सिंह, जगदीश शर्मा जैसों को टिकट देकर जदयू ने अपनी मानसिकता स्पष्ट कर दी है। जनता इस पूर प्रकरण को बड़े ध्यान से देख रही है। कांग्रस ने भी साधु यादव, रमई राम जैसों को टिकट देकर अपना दिवालियापन उजागर कर दिया है। उन्होंने कहा कि बिहार जनांदोलन और संघर्ष की धरती रही है। इस चुनाव में सार जातीय समीकरण ध्वस्त हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि सीवान, गोपालगंज, आरा, काराकाट आदि जगहों के भ्रमण के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि माले का व्यापक समर्थन मिल रहा है। पाटलिपुत्र से लालू की उम्मीदवार पर उन्होंने कहा कि मधेपुरा की जनता द्वारा नकार जाने के बाद अब यहां की जनता भी उन्हें सबक सिखायेगी। इसके पूर्व पाटलिपुत्र के माले उम्मीदवार रामेश्वर प्रसाद और पटना साहिब के उम्मीदवार रामनारायण राय की जीत सुनिश्चित कराने के लिए माले के नेतृत्व में सीपीआई और सीपीएम तीनों दलों के कार्यकर्ताओं का यहां सम्मेलन हुआ। इसमें प्रचार और जीत की रणनीति बनायी गई।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दीपंकर बोले, भाकपा माले बनाएगी सार्थक तीसरा मोर्चा