DA Image
7 अप्रैल, 2020|6:09|IST

अगली स्टोरी

संकट पैदा कर सकती हैं तेल की कीमतें: जालान

संकट पैदा कर सकती हैं तेल की कीमतें: जालान

रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर बिमल जालान का कहना है कि वर्ष 2009-10 में थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) भले ही कम है, लेकिन तेल की कीमतें समस्या पैदा कर सकती हैं।

राज्यसभा सदस्य एवं रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर बिमल जालान ने संवाददाताओं से कहा कि इस साल (2009-10) हमारा डब्ल्यूपीआई कम है और मुझे नहीं लगता किसी को इस मोर्चे पर कोई दिक्कत है, लेकिन तेल की कीमतें समस्या पैदा कर सकती हैं। अधिक राजकोषीय घाटे के बारे में जालान ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि राहत पैकेज देने से कोई समस्या पैदा होगी। उन्होंने कहा कि इस समय मुददा यह है कि अगर आप राजकोषीय घाटा कम करते हैं तो आप उत्पादन क्षमता में विस्तार जैसी बहुत सी जरूरी चीजों को कम कर रहे होंगे। आप खाद्य, तेल या उर्वरक सब्सिडी को कम नहीं कर सकते क्योंकि यह वांछनीय नहीं होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:संकट पैदा कर सकती हैं तेल की कीमतें: जालान