अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेंज अफसर और वनरक्षी गिरफ्तार

विजिलेंस की टीम ने शुक्रवार को मसौढ़ी रंज के वन क्षेत्र पदाधिकारी अभय कुमार सिन्हा और वनरक्षी रामईश्वर सिन्हा को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। अधिकारी के पटना स्थित नेहरू नगर के भाड़े के आवास से 70 हजार रुपए, विभिन्न बैंकों के कुल 14 पासबुकों और फिक्स्ड डिपोजिट में जमा लगभग ढाई लाख रुपए, बतौर बयाना एक लाख रुपए भुगतान के इकरारनामे वाला उत्तरी मंदिरी में एक प्लॉट के कागजात और एक मारुति 800 कार मिली है।ड्ढr ड्ढr विजिलेंस के मुताबिक यह भी पता चला कि अभय कुमार सिन्हा रिश्वत का धन खुद नहीं लेकर अपने वनरक्षी रामईश्वर के मार्फत लेता था। धनौती गांव (मसौढ़ी) के अलख निरंजन ने शिकायत की थी कि आरा मशीन चलाते रहने के लिए उनसे एकमुश्त 10 हजार और हर माह तीन हजार रुपए मांगे जा रहे हैं। सत्यापन में मामला सही पाए जाने पर विजिलेंस एडीजी अनिल कुमार सिन्हा के निर्देश पर वरीय डीएसपी पीएन मिश्रा और मृत्युंजय कुमार चौधरी की अगुआई में धावा दल बनाया गया जिसमें इंस्पेक्टर जोरावर प्रसाद सिंह और शशिशेखर झा भी शामिल किए गए।ड्ढr ड्ढr कार्रवाई के दौरान वन क्षेत्र पदाधिकारी ने अपने वनरक्षी रामईश्वर को दलाल के रूप में पेश किया और उसे ही घूस की राशि देने को कहा। रामईश्वर परिवादी से पैसा लेकर बगल के नेहरू नगर स्थित अधिकारी के किराए के आवास पर उनको देने गया। घात लगाए निगरानी दल ने दोनों को वहां से रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। अधिकारी के पास से घूस की राशि के अलावा भी 11 हजार रुपए उनकी जेब में रखे मिले। इस तरह उनके घर से कुल 81 हजार रुपए बरामद हुए। ब्यूरो का इस वर्ष का यह 22वां ट्रैप केस है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रेंज अफसर और वनरक्षी गिरफ्तार