अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीलीभीत में तनाव, लाठीचार्ज में 20 घायल

पीलीभीत संसदीय सीट से भाजपा के उम्मीदवार वरुण गांधी के सरेंडर तथा कोर्ट द्वारा न्यायिक हिरासत भेजे जाने को लेकर शनिवार को उनके समर्थक सड़कों पर आ गए और तोड़फोड़ की। स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस को हवा में फायरिंग तथा मामूली लाठी चार्ज करना पड़ा, जिसमें 20 लोग घायल हो गए। समर्थकों ने पुलिस पर भी पथराव किया और कुछ वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया। जिला जेल के सामने जहां वरुण को ले जाया गया वहां भी भारी संख्या में लोग मौजूद थे। इससे पहले वरुण गांधी ने पीलीभीत में न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश दिया और सोमवार तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। उनके साथ भाजपा के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र भी मौजूद थे। सरेंडर करने के बाद मीडिया से मुखातिब वरुण गांधी ने कहा कि अगर मेरे जाने से लोगों में सिद्धांतों से लड़ने की हिम्मत पैदा होती है तो मैं जेल जाने को तैयार हूं।ड्ढr ड्ढr इससे पहले वरुण गांधी के स्वागत के लिए शनिवार को पीलीभीत में जमा हुए लगभग 50 पार्टी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इन कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर यातायात अवरूद्ध कर दिया और पुलिसकर्मियों के साथ भिड़ गए। गौरतलब है कि लोकसभा चुनावों के लिए पीलीभीत से भाजपा उम्मीदवार वरुण गांधी अपने तथाकथित भड़काऊ भाषणों की वजह से यहां गिरफ्तार किए जा सकते हैं। पुलिस के अनुसार भाजपा कार्यकर्ताओं को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी)की धारा 144 के तहत गैर कानूनी तौर पर एकत्र होने के कारण गिरफ्तार किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीलीभीत में तनाव, लाठीचार्ज में 20 घायल