DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान के लिये किसी वरदान से कम नहीं है यह जीत

पाकिस्तान के लिये किसी वरदान से कम नहीं है यह जीत

पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ियों ने टी-20 वर्ल्ड कप में टीम की खिताबी जीत को वरदान बताते हुए कहा कि यह उन देशों के लिये सबक है जो पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अलग थलग करने की कोशिश में जुटे हैं।

पूर्व कप्तान रमीज राजा ने कहा कि मैं इसकी तुलना 1992 विश्व कप में मिली जीत से नहीं कर सकता क्योंकि ये दोनों अलग-अलग प्रारूप हैं। लेकिन मैं यह जरूर कहूंगा कि समय और मौजूदा हालात के लिहाज से यह अधिक अहम जीत है।

उन्होंने कहा कि यह जीत उन लोगों को अच्छा जवाब है जिन्होंने सोचा था कि पाकिस्तान क्रिकेट सुरक्षा कारणों से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अलग-थलग होकर खत्म हो जयेगा। राजा ने कहा कि सुरक्षा मसलों के बावजूद पाकिस्तान में क्रिकेट कभी खत्म नहीं होगा।

पूर्व कप्तान और पीसीबी महानिदेशक जावेद मियांदाद का मानना है कि यह जीत इसलिये अहम है क्योंकि ऐसे समय में मिली है जब पाकिस्तानी क्रिकेटरों को अधिक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला और देश से विश्व कप के मैचों की मेजबानी भी छीन ली गई है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान के लिये वरदान से कम नहीं है यह जीत