DA Image
23 फरवरी, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सबसे युवा मंत्रीः अगाथा संगमा

सबसे युवा मंत्रीः अगाथा संगमा

हिन्दी भाषी न होने के बावजूद हिन्दी में शपथ ग्रहण कर राष्ट्रपति भवन में जिसने सबका मन मोह लिया, गरीबों और लाचारों के लिए काम करने का जज्बा जिसके अन्दर कूट-कूट कर भरा हुआ है, जी हां, हम बात कर रहे हैं ‘थिंक स्पेशल एंड डू स्पेशल’ मंत्र को जीवन्त करने वाली सबसे कम उम्र की मंत्री और सांसद अगाथा संगमा की। वह 27 साल की उम्र में सांसद चुनी गई हैं। किस अन्दाज में अपने से बड़े का सम्मान किया जाना चाहिए, अगर यह जानना है तो नव नियुक्त सांसद और सबसे कम उम्र की मंत्री अगाथा संगमा से जाना जा सकता है। मंत्री पद की शपथ लेने पहुंची अगाथा ने अपने से बुजुर्ग नेताओं को जिस विनम्रता से झुक कर अभिनन्दन किया वो सराहनीय है। अगाथा को राज्य मंत्री के रूप में ग्रामीण विकास का विभाग सौपा गया है। भारतीय इतिहास में सबसे कम उम्र में मंत्री पद की शपथ लेने वाली अगाथा पेशे से वकील हैं। अगाथा ने नॉटिंघम विश्वविद्यालय से पर्यावरण प्रबंधन में एमएस डिग्री ली है। पुणे की लॉ सोसाइटी से अगाथा ने एलएलबी की पढ़ाई की है।

पूर्व लोकसभा स्पीकर और राजनैतिक पीए संगमा की बेटी अगाथा का जन्म दिल्ली में 24 जुलाई 1980 को हुआ। अगाथा मेघालय राज्य के टुरु लोकसभा क्षेत्र से सांसद चुनी गयी हैं। पेशे से वकील आगाथा ने मेघालय में राजमार्ग के निर्माण के लिए बहुत काम किया है। अगाथा को पढ़ना-लिखना, घूमना और फोटोग्राफी करना अच्छा लगता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:सबसे युवा मंत्रीः अगाथा संगमा